इस ग्रामपंचायत की व्यवस्थाएं लाचार, टंकी को खुद पानी का इंतजार

तीन वर्ष पहले खोदी ट्यूब वेल, ग्रामीणों को नहीं मिला पानी

By: Sushil Kumar Singh

Updated: 10 Mar 2019, 11:21 PM IST

उदयपुर/ बाठेरडा खुर्द. वल्लभनगर उपखंड के बाठेरडा खुर्द ग्राम पंचायत के गुर्जरो का गुड़ा में ग्राम पंचायत सुविधा के बावजूद स्थानीय लोगों को पानी उपलब्ध कराने से किनारा किए हुए है। करीब तीन साल पहले 5 लाख लागत से खोदी गई ट्यूबवेल जहां नकारा होने की कगार पर है। वहीं छह माह पहले बनकर तैयार हुई टंकी को पानी का इंतजार है। इधर, समस्याग्रस्त ग्रामीण महिलाओं का आधा किलोमीटर दूर से 100 फीट गहरे कुएं से पानी निकालने का सिलसिला बदस्तुर बना हुआ है। आंखों दिखती ग्रामीणों की समस्याओं को लेकर पंचायत स्तर पर बरती जा रही कोताही अब लोगों में आक्रोश का कारण बन रही है।
इससे पहले स्थानीय लोगों की मांग पर तत्कालीन विधायक रणधीरसिंह के निर्देश पर पंचायत ने राणेरा तालाब की पाल के पीछे ट्यूबवेल खुदा दी। इसके बाद एक टंकी निर्माण कर पाइप लाइन डाली गई। टंकी बने हुए भी एक वर्ष से अधिक समय हो गया है। दूसरी ओर सुस्ती इस कदर हावी है कि अब तक मोटर की सुध नहीं ली गई। मोटर लगाने के बाद लापरवाही के चलते इसके चारों ओर जंगली वनस्पति का जमघट लग गया है। अब गांव का आलम यह है कि महिलाएं करीब आधा किलोमीटर दूर से पानी लाकर परिवार की आवश्यकताओं का गुजारा कर रही हैं। अब ग्रामीणों का आक्रोश आंदोलन की ओर इशारा करता दिख रहा है।

जोखिम भरा कार्य
पंचायत स्तर पर जानबूझ कर उदासीनता बनी हुई है। तीन वर्ष पूर्व स्वीकृत राशि का सदुपयोग नहीं हो सका है। क्षेत्र में पानी की किल्लत है। महिलाएं जोखिम लेकर पानी ला रही हैं।
कालू लाल कमावत व भगवत सिंह सारंगदेवोत, बाठेरडा खुर्द

जड़ में अटकी मोटर
ट्यूबवेल की मोटर किसी पेड़ की जड़ में अटक गई है। उसे बाहर निकलवाने के लिए मशीन मंगाई है। जल्द ही मोटर चालू करवा देंगे।
कपिल जाटव, ग्राम विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत बाठेरडा खुर्द

Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned