उदयपुर में 2020 तक बनेगी आयड़ में ट्रंक लाइन व सीवरेज, आरयूआईडीपी के पीडी डॉ. प्रीतम ने पैदल नापी आयड़

उदयपुर में 2020 तक बनेगी आयड़ में ट्रंक लाइन व सीवरेज, आरयूआईडीपी के पीडी डॉ. प्रीतम ने पैदल नापी आयड़

Mukesh Hingar | Publish: Jan, 19 2018 02:47:55 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर. आयड़ नदी में सीवरेज व ट्रंक लाइन का कार्य 26 जनवरी 2020 तक पूरा हो जाएगा।

उदयपुर . आयड़ नदी में सीवरेज व ट्रंक लाइन का कार्य 26 जनवरी 2020 तक पूरा हो जाएगा। इसको लेकर आरयूआईडीपी के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. प्रीतम बी. यशवंत ने गुरुवार को पैदल ही आयड़ नदी का नापा और इस काम को तकनीकी रूप से देखते हुए आवश्यक निर्देश दिए।


सुबह नवरत्न कॉ पलेक्स से प्रीतम बी. यशवंत ने यूआईटी, नगर निगम व सिंचाई विभाग की टीम के साथ दौरा शुरू किया। उन्होंने वहां से पैदल ही पुलां नई पुलिया होते हुए सीधे भूपालपुरा कृष्णपुरा होकर सुभाषनगर स्थित पासपोर्ट कार्यालय तकपहुंच पूरे रास्ते में सीवरेज लाइन को लेकर जाना और समझा। उन्होंने इंजीनियरों से हिदायत दी कि इस कार्य में गुणवत्ता का पूरा याल रखा जाए और काम को तय समय पर पूरा किया जाए। उन्होंने नगर निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग, यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता, सिंचाई विभाग के इंजीनियर से कहा कि वे तकनीकी रूप से समय-समय पर इस काम पर पूरी निगरानी रखें। सीवरेज का कार्य शुरू हो गया और अब ट्रंक लाइन का काम शुरू होगा।

 

READ MORE: PATRIKA CAMPAIGN: घर-घर तिरंगा, हर-घर तिरंगा, त्याग, तपस्या व राष्ट्र गौरव का प्रतीक है तिरंगा


प्रोजेक्ट की खास बातें

- बेदला से चार सौ मीटर पहले से कलड़वास एसटीपी तक सीवरेज बनेगी।
- सीवरेज की लाइन करीब 12 किलोमीटर ल बी होगी।

- इस प्रोजेक्ट पर करीब 80 से 82 करोड़ रुपए की लागत आएगी।
- प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए दो साल की अवधि तय की गई है।

 

 

READ ALSO: सात हजार शिक्षकों का चार माह बाद भी नहीं हुआ फिक्सेशन

उदयपुर. राज्य सरकार ने सभी राज्यकर्मियों के लिए 7वें वेतनमान का नकद भुगतान एक अक्टूबर से लागू कर दिया। इसके बाद उदयपुर जिले में कार्यरत प्रार िभक शिक्षा के शिक्षकों को छोडकऱ लगभग सभी शिक्षकों और कर्मचारियों का नए वेतनमान का फिक्सेशन होकर नया वेतन मिलने लग है। लेकिन जिला शिक्षा अधिकारी प्रार िभक व समस्त ब्लॉक के ब्लॉक प्रार िभक शिक्षा अधिकारियों की उदासीनता के कारण यही शिक्षक नए वेतन का चार माह बाद भी इंतजार कर रहे हैं। जबकि अधिकतर शिक्षा अधिकारियों ने फिक्सेशन करवाकर बढ़ा हुआ वेतन उठाना भी शुरू कर दिया है। इससे शिक्षकों में रोष है। राजस्थान शिक्षक व पंचायतीराज कर्मचारी संघ प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष शेरसिंह चौहान, जिलाध्यक्ष नवीन व्यास ने बताया कि इस संबंध में घेराव किया गया। इसके बाद भी कार्रवाई नहीं करने पर शिक्षक सोमवार को जिला शिक्षा अधिकारी प्रार िभक कार्यालय के बाहर धरना देंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned