अपनों की सुरक्षा के लिए कैमरे की जद में लेेकसिटी, घरों में भी सीसीटीवी से रख रहे नजर

घरों में सीसीटीवी कैमरे लगवाने का ट्रेंड, 60 प्रतिशत एरिया कवर हुआ, जहां कैमरे वहां खुली बड़ी वारदातें, कानपुर गांव ने उठाया कदम तो शहरवासी भी पीछे नहीं

By: madhulika singh

Published: 08 Oct 2021, 04:27 PM IST

उदयपुर. देश की राजधानी दिल्ली सबसे अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाने वाला दुनिया का पहला शहर बन चुका है। यह ट्रेंड बड़े महानगरों से होता हुआ छोटे शहरों में भी आ गया है। यहां भी लोग खुद की, घर की, व्यावसायिक स्थलों, आस-पड़ोस, कार्यस्थलों, बाजारों, चौराहों आदि को सुरक्षित बनाने के लिए हर पल तीसरी आंख की कैद को पसंद करने लगे हैं। यही कारण है कि पहले तक जहां सिर्फ व्यावसायिक दृष्टि से ही सीसीटीवी कैमरे लगाए जाते थे, वहीं अब इनका घरेलू इस्तेमाल भी बढ़ चुका है। उदयपुर की बात करें तो शहर का करीब 60 प्रतिशत क्षेत्र सीसीटीवी कैमरों की निगाह में है। इसमें भी घरेलू सुरक्षा के हिसाब से लोगों की संख्या बढऩे लगी है।


50 प्रतिशत बढ़ी डिमांड

पिछले कुछ सालों में सीसीटीवी कैमरे की मांग 50 प्रतिशत तक बढ़ गई है। सुरक्षा के लिहाज से पहले तक चौराहों, बाजारों, शॉपिंग मॉल्स व कार्यालयों में भी लगवाए जाते थे, लेकिन अब घरों के अंदर व बाहर भी सीसीटीवी कैमरे मिल जाएंगे। ये पूरी तरह से सुरक्षा की दृष्टि से ही लगवाए जाते हैं, जैसे घर की बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए तो वहीं बुजुर्ग या बच्चा घर में अकेले हों तो उसकी देखरेख और सुरक्षा के लिए लोग कैमरे लगवाते हैं। वहीं, चोरी आदि घटनाओं के लिए भी कैमरे लगाए जाने लगे हैं। लोग कैमरे को मोबाइल से कनेक्ट कर लेते हैं। इससे वे कहीं पर भी हों, घर पर निगाह रख लेते हैं।

नए मकानों में सीसीटीवी कैमरे के लिए अंडरग्राउंड वायरिंग
शहर के सीसीटीवी कैमरे के डीलर्स के अनुसार लोग अब सीसीटीवी कैमरे लगाने को लेकर जागरूक हो चुके हैं। इसी कारण अब नए मकानों में ही अंडरग्राउंड वायरिंग करा लेते हैं या वायरिंग करा छोड़ देते हैं ताकि जब जरूरत पड़े तब वे इसका इस्तेमाल कर सकें। नए मकानों में 80 प्रतिशत लोग सीसीटीवी कैमरे लगवा रहे हैं। वहीं, कैमरा 4 से 5 साल चल जाता है। लोग हाई डेफिनिशन और आईपी यानी इंटरनेट के माध्यम से चलने वाला जिसे कहीं से भी देखा जा सकता है लगवाना पसंद कर रहे हैं। वहीं, 2 मेगा पिक्सल से लेकर 4 व 5 मेगा पिक्सल और 20 मीटर व अधिक का क्षेत्र दिखा सकता है, वह लेना चाहते हैं।


इनका कहना है...

सीसीटीवी की डिमांड पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ गई है। पहले तक सिर्फ व्यावसायिक उद्देश्य से ही लगाए जाते थे, लेकिन शहरों में लोग अब इसे सुरक्षा की दृष्टि से घरों के अंदर व बाहर भी लगाना पसंद कर रहे हैं।
अनिल डांगी, व्यवसायी

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned