आसमान में बादलों के डेरे से लुढक़ा पारा, उदयपुर के कई इलाकों में हल्की बूंदाबांदी शुरू

Bhagwati Teli | Publish: Jun, 18 2019 12:18:05 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

गोगुन्दा में 2 इंच बारिश, शहर में हल्की बूंदाबांदी

उदयपुर . लेकसिटी के आसमान में मंगलवार सुबह से ही बादलों ने डेरा जमाए रखा है, जिससे शहर के कई क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी हुई। जिससे शहरवासियों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली। अगर तामपान की बात करे तो मंगलवार को शहर का अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इससे पूर्व सोमवार को भी जिले में कुछ जगह पर मानसून पूर्व की बारिश हुई। सर्वाधिक दो इंच बारिश गोगुंदा में दर्ज की गई। शहर में रविवार आधी रात के बाद हल्की बूंदाबांदी हुई।

मौसम विभाग के अनुसार जिले में प्री मानसून जल्द सक्रिय होगा और हवा के साथ हल्की से तेज बारिश के आसार बने हुए। 25 जून तक मानसून सक्रिय हो जाएगा। गौरतलब है कि पहले वायु चक्रवात ने दिशा बदलकर मानसून पूर्व बारिश को धो दिया था। अब हवा ने रूख बदला है जिससे मानसून पूर्व बारिश के आसार बढ़े हैं। जावर माइंस में भी तेज हवा के साथ कस्बे व आसपास पन्द्रह मिनट बारिश हुई। इस दौरान सडक़ों पर पानी बह निकला।

जल संसाधन विभाग के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार सई डेम पर 34, उदयपुर व स्वरूपसागर पर 2-2, नाई में 1, डाया में 4, ओगणा में 18 तथा झाड़ोल व मदार जलाशय पर 11-11 मिमी वर्षा दर्ज की गई।


आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष स्थापित
मानसून के मद्देनजर कलक्ट्रेट में जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन एवं नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। यह आपदा नियंत्रण कक्ष 15 जून से 30 सितंबर 24 घंटे चलेगा। इसके प्रभारी अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) नरेश बुनकर होंगे। इस कक्ष का फोन नंबर 0294-2414620 तथा टोल फ्री नंबर 1077 है। साथ ही जिले की सभी तहसील स्तर पर स्थापित आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्षों को 24 घंटे संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned