35 किमी तक नहीं है कॉलेज

उच्च शिक्षा से वंचित रह जाती है बालिकाएं

By: surendra rao

Published: 18 Apr 2021, 08:02 PM IST

भटेवर कस्बे में सुगम आवागमन और मुख्य सेंटर होने के कारण जताई जा रही आवश्यकता
वल्लभनगर/भटेवर. (उदयपुर). ३५ किमी तक कोई सरकारी कॉलेज नहीं होने से यहां की अधिकतर छात्राएं पढ़ाई बीच में ही बंद कर चूल्हा-चौका में लग जाती है। जिससे लगातार यहां छात्राओं की शिक्षा प्रभावित हो रही है। समस्या की गम्भीरता को देखते हुए अब भटेवर कस्बे में राजकीय महाविद्यालय खुलवाने की मांग तेज हो गई है। क्षेत्र में कॉलेज खोलने की मांग को लेकर आसपास की विभिन्न पंचायतों के ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों ने हुंकार भरी है। पूर्व सरपंच एवं वरिष्ठ नेता वेणी राम जणवा के नेतृत्व में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर शिक्षा के क्षेत्र में भटेवर के साथ हो रहे सौतेले व्यवहार एवं उपेक्षा के विरोध में राजकीय महाविद्यालय खुलवाने के लिए उपप्रधान रोशन मेहता, पंचायत समिति सदस्य डोली खारोल, सरपंच हेमंत अहीर, उप सरपंच प्रतिनिधि दुर्गेश सेन, धन्वंतरी आयुर्वेदिक सेवा समिति के संस्थापक देवीलाल मेनारिया, पूर्व पंचायत समिति सदस्य रूप लाल मेनारिया, राजेंद्र खारोल, ढावा सरपंच मदन लाल कीर, कांग्रेस ब्लॉक संगठन महामंत्री भगवान लाल अहीर, बंशीलाल सेन, निर्मल प्रजापत, समाजसेवी गोपी लाल मेनारिया, मांगू गिरी गोस्वामी सहित आसपास की 25 पंचायतों के जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी श्रवण सिंह राठौड़ के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित किया। ज्ञापन पर वयोवृद्ध वरिष्ठ अधिवक्ता एवं भींडर पंचायत समिति के पूर्व प्रधान हुक्मीचंद सांगावत, पूर्व प्रधान चमन शेखर सुथार सहित क्षेत्र से जुड़ी 24 पंचायतों के सरपंचों ने हस्ताक्षर करते हुए भटेवर में कॉलेज खुलवाने के लिए समर्थन किया।
बीच में छूट रही पढ़ाई
भटेवर सहित आसपास की 25 ग्राम पंचायतों के सरकारी व निजी उच्च माध्यमिक विद्यालयों में 1118 छात्र-छात्राएं 12 वीं कक्षा में अध्यनरत हैं। जिसमें 572 छात्राएं 12 वीं कक्षा में शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। क्षेत्र में 35 किमी से पहले कहीं भी सरकारी कॉलेज नहीं होने के चलते अधिकांश छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षा से वंचित होकर बीच में ही पढ़ाई छोडऩे के लिए विवश हो जाते हैं। हाइवे से सटे भटेवर में कॉलेज खुलने के बाद छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा मिलने से उनका भविष्य उज्जवल होगा। क्षेत्र में महाविद्यालय की मांग को लेकर 1 दिन पूर्व भी ग्रामीणों द्वारा एकजुट होकर कॉलेज खुलवाने की पुरजोर से मांग की गई।

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned