scriptCongres rally in Jaipur rajasthan revenue minister ram lal jat news | जयपुर रैली के लिए उदयपुर को दस हजार कार्यकर्ताओं का टारगेट : रामलाल जाट | Patrika News

जयपुर रैली के लिए उदयपुर को दस हजार कार्यकर्ताओं का टारगेट : रामलाल जाट

जाट ने कहा कि महंगाई को लेकर जनता में गुस्सा है और इस रैली को लेकर कांग्रेसजन पूरे जोश के साथ मैदान में है।

उदयपुर

Updated: December 07, 2021 11:47:08 pm

उदयपुर. राजस्व मंत्री और उदयपुर जिला प्रभारी मंत्री रामलाल जाट ने जयपुर में कांग्रेस की महंगाई रैली की तैयारियों को लेकर संगठन के साथ बैठकें की और कांग्रेस जनों में उत्साह भरा। उन्होंने कहा कि उदयपुर की विधानसभा वार टारगेट दिए गए है। उदयपुर में पत्रकारों से बातचीत में जाट ने कहा कि महंगाई को लेकर जनता में गुस्सा है और इस रैली को लेकर कांग्रेसजन पूरे जोश के साथ मैदान में है।
Rajasthan Revenue Minister Ram Lal Jat
Rajasthan Revenue Minister Ram Lal Jat
मंगलवार को यहां सर्किट हाउस में जाट ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार जनकल्याण के लिए पूरी तरह समर्पित और प्रतिबद्ध हैै। प्रभारी मंत्री रामलाल जाट ने जिले में चल रहे प्रशासन गांव-शहरों के संग अभियान को भी इसी दिशा में एक अहम कदम बताया।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने नियमों में काफी सरलीकरण किया है, ताकि किसान-मजदूर और ग्रामीणों के काम अटके नहीं। कल ही बांसड़ा में शिविर में मैंने देखा, मैं लोगों से मिला। कोरोना महामारी के चलते लोगों के कई काम अटके हुए थे। हर पंचायत मुख्यालय पर 22 विभागों से संबंधित आम जनता के काम एक ही छत के नीचे हो रहे हैं। राजस्थान में 10 लाख से ज्यादा नामांतरण खुले चुके हैं। लगभग साढ़े 11 लाख नाम शुद्धि के प्रकरणों का निस्तारण हुआ है, ये ऐसे काम है, जिनके लिए ग्रामीण एसडीएम ऑफिस के चक्कर लगाते थे, वकील करना पड़ता था, कई बार अधिकारी ऑफिस में नहीं मिल पाते थे। लेकिन आज बिना किसी परेशानी के उनके काम हो रहे हैं।
मुख्यमंत्री की सोच- जनता का दर्द, मेरा दर्द है
प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की सोच है कि आम लोगों का दर्द, हमारा दर्द है। हमारी जिम्मेदारी है कि हम गांवों के लोगों की समस्याओं को हल करें। कैम्पों में आम जन से जुड़ा कोई भी काम रुके नहीं, इसके लिए प्रशासन और सरकार पूरी तरह समर्पित है। उन्होंने उदयपुर जिले की जनता से इन शिविरों का अधिक से अधिक लाभ उठाने की अपील करते हुए कहा कि कैम्प में जाकर आप अपनी समस्या दर्ज कराएं, किसी के बहकावे में न आएं।
उदयपुर जिले में देर से, लेकिन दमदार शुरुआत
प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले में वल्लभनगर उपचुनाव आचार संहिता के चलते प्रशासन गांवों-शहर के संग अभियान उदयपुर जिले में थोड़ी देर से प्रारंभ हुए, लेकिन इन शिविरों के माध्यम से मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की मंशा के अनुरूप जनता को राहत मिल रही है। उदयपुर जिले में 20 पंचायत समितियों में कैम्पों में हजारों नामांतरण, पट्टे वितरण, सामाजिक सुरक्षा पेंशन आदि कार्य हुए हैं। कई वर्षों से अटके हुए नियमन, आवंटन, खातेदारी, बिलानाम भूमि के काम हो रहे हैं। इस बार कैम्प की खासियत यह है कि प्री-कैम्प में ग्रामीणों को पावती रसीद दी जा रही है। उसमें उसके फोन नंबर होते हैं, उसका रिकॉर्ड रखा जाता है। मुख्यमंत्री स्वयं प्रशासन गांवों-शहर के संग अभियान की मॉनिटरिंग कर रहे हैं, विभाग के मंत्री और प्रभारी मंत्री भी मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपीकेशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे तालकोरोना के नए मामलों में भारी उछाल, 24 घंटे में 2.82 लाख से ज्यादा केस, 441 ने तोड़ा दम5G से विमानों को खतरा? Air India ने अमरीका जाने वाली कई उड़ानें रद्द कीPM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामरोहित शर्मा को क्यों नहीं बनाया जाना चाहिए टेस्ट कप्तान, सुनील गावस्कर ने समझाई बड़ी बातखत्म हुआ इंतज़ार! आ गया Tata Tiago और Tigor का नया CNG अवतार शानदार माइलेज के साथकोरोना का कहर : सुप्रीम कोर्ट के 10 जज कोविड पॉजिटिव, महाराष्ट्र में 499 पुलिसकर्मी भी संक्रमित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.