video : अशोक परनामी के संविधान के विरूद्ध गैर कानूनी बयान के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

video :  अशोक परनामी के संविधान के विरूद्ध गैर कानूनी बयान के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

rajdeep sharma | Publish: Dec, 02 2017 03:33:51 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर में प्रदेश कांग्रेस कमेटी अभाव अभियोग प्रकोष्ठ के स्थानीय पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

 

उदयपुर . राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अभाव अभियोग प्रकोष्ठ के द्वारा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी के संविधान के विरूद्ध गैर कानूनी बयान के खिलाफ शनिवार को देहली गेट चाैैैराहा पर उनका पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन किया।


कांग्रेस प्रवक्ता फिरोज अहमद शेख ने बताया कि इस अवसर पर प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष इन्द्र कुमार भट्ट ने कहा कि भाजपा के 4 वर्ष के कुशासन, काला कानून और प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी के संविधान के विरूध गैरकानूनी बयान देकर भू-माफियाओं और अपराधियों के हौसले बढ़ाने का काम किया हैैं। कांग्रेस अध्यक्ष गोपालकृष्ण शर्मा ने कहा की प्रदेश अध्यक्ष परनामी ने हाईकोट के विरूध दिये गए बयान को गैरकानूनी कृत्य व न्यायपालिका का अपमान बताया। इस अवसर पर कांगे्रस कार्यकर्ताओं ने सरकार के जुल्म, तानाशाही, महंगाई, काले कानून, वसुंधरा राजे और अशोक परनामी के विरूध जबरदस्त नारेबाजी कर विरोध जताया।विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस शहर अध्यक्ष गोपालकृष्ण शर्मा, सुरेश श्रीमाली, सचिव पंकज कुमार शर्मा, राजीव सुहालका, फतह सिंह, दिलीप प्रभाकर, गणेश राजोरा, राधाकृष्ण मेहरा, रामलाल बारोलिया, राहुल व्यास, रामलाल जाट, विजय सिंह, डाॅ. सत्यभुषण नागर, प्रकाश श्रीमाल, अखलाक हुसैन, दलपत सिंह चुण्डावत, चैन सिंह विसावत, रमेश शुक्ला, दिनेश दवे, हितेश सिंह राजपूत, भानू गुर्जर, नाथूलाल गुर्जर, गौरीशंकर पटेल, विनोद जैन, दीपक सुखाड़िया, सत्यनारायण राव, प्रकाश श्रीमाल, राकेश अग्रवाल, उत्तम देवड़ा,भगवत सिंह आदि कांग्रेस कार्यकता उपस्थित थे।

 

READ MORE: सरकारी जमीन पर कब्जों का नियमन महंगा, आवासीय-व्यावसायिक नियमन दरों में बढ़ोतरी

 

 

महिला हिंसा विरोधी कन्वेन्शन में भाग लेने के लिए दिल्ली जाएंगी महिला कार्यकर्ता
उदयपुर. अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति की ओर से 8 दिसम्बर को नई दिल्ली महिला हिंसा विरोधी राष्ट्रीय कन्वेन्शन आयोजित किया जाएगा जिसमें भाग लेने के लिए उदयपुर से भी 100 महिला कार्यकर्ता दिल्ली जाएंगी। महिला समिति की जिला सचिव एवं पूर्व पार्षद गणपति देवी सालवी ने बताया कि देश में महिलाओं के साथ लगातार अमानवीय अत्याचार करने के साथ उसे दोयम दर्जे का नागरिक बना रखा है। सालवी ने बताया कि केन्द्र की मोदी सरकार एवं राज्य की वसुंधरा सरकार ने सत्ता में आने के
पहले महिलाओं पर हो रहे हिंसा एवं अत्याचारों को रोकने का वादा किया लेकिन केन्द्र में मोदी बनने के बाद महिला हिंसा में 5.8 प्रतिशत की बढोत्तरी हुयी है और पितृसत्तामक सोच को बढ़ावा दिया जा रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned