कोरोना संक्रमित को अपराधी की तरह घर से उठाकर ले जाने की प्रवृति बदले : कटारिया

विस में नेता प्रतिपक्ष कटारिया बोले : पॉजिटिव को अपराधी की तरफ ले जाने की प्रवृति बदले

By: Mukesh Kumar Hinger

Updated: 30 Aug 2020, 12:25 PM IST

उदयपुर. विस में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों के अस्पताल में भर्ती होने के बाद उनके परिजनों को यह तो पता चल सके कि उनकी तबियत कैसी है। कटारिया ने कहा कि अस्पतालों की स्थिति यह है कि परिवार वाले कोरोना संक्रमित के बारे में जान ही नहीं सकते कि उसकी तबीयत कैसी चल रही है? अस्पताल में ले जाने के बाद कम से कम उसकी तबीयत की प्रगति तो परिवार वालों को पता चलनी चाहिए। कटारिया ने कहा कि परिवार वालों को यह भी पता नहीं होता कि मरीज ऑक्सीजन पर है, वेंटिलेटर पर या उसकी तबियत बेहतर है। कटारिया ने कहा कि कोरोना से संक्रमित कोई मरीज को घर से ले जाने की प्रवृति भी बदलनी होगी। उन्होंने कहा कि संक्रमित की रिपोर्ट आने के बाद उसे घर से ऐसे उठा कर ले जा रहे है जैसे उसने कोई बड़ा अपराध कर दिया हो, कम से कम इस स्थिति को तो बदला जाना चाहिए।

निजी अस्पताल भारी-भरकम बिल दें रहे
कटारिया ने निजी अस्पतालों पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार में तो हजारों के इंजेक्शन नि:शुल्क लग रहे हैं लेकिन निजी अस्पताल भारी-भरकम बिल दे रहे हैं। ऐसे में सरकारी अस्पतालों में गंभीर मरीजों को रखने की व्यवस्था पर ध्यान देना जरूरी है। और इसके लिए सिर्फ सिस्टम सुधारने की जरूरत है, संसाधन तो मौजूद हैं उन्हें सही तरीके से काम में लेना होगा।

Corona virus
Show More
Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned