कोरोना का सबक, अब विधायकों के 13 करोड़ बरसेंगे चिकित्सा ढ़ांचे पर, कुछ राजी-कुछ नाराज

- कोरोना का सबक, अब विधायकों के 13 करोड़ बरसेंगे चिकित्सा ढ़ांचे पर, कुछ राजी-कुछ नाराज

- जिला प्रशासन के निर्देश पर चिकित्सा विभाग ने की तैयारी

- हर विधानसभा में विधायकों तक पहुंचा रहे योजना की जानकारी

By: bhuvanesh pandya

Published: 24 Jul 2020, 08:47 AM IST

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. अब जल्द ही विधायकों के मद में मिलने वाली राशि का उपयोग चिकित्सा ढांचे की मजबूती के लिए होगा, इसके लिए उदयपुर जिला प्रशासन ने योजना तैयार कर विधायक तक पहुंचाकर उन्हें समझाना शुरू किया है कि कैसे लोगों को इसका लाभ पहुंचाया जा सकेगा। इसमें कुछ विधायक राजी है तो कुछ नाराज। गत दिनों कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभी विधायकों के मद को चिकित्सा की मजबूती के लिए इस्तेमाल करने की मंशा जताई थी। फिलहाल उदयपुर शहर को छोडकऱ जिले में सभी विधायकों को मिलाकरण करीब 13 करोड़ का बजट तैयार किया गया है।

------

ये है तैयारी विधायक मद से चिकित्सा का पूरा खाका मजबूत करने के लिए अब जिला प्रशासन के निर्देश पर चिकित्सा विभाग ने योजना तैयार कर ली है, इस योजना के माध्यम से सभी विधायकों से संपर्क किया जा रहा है कि उनके क्षेत्र के प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में क्या-क्या कमियां है और इन्हें कैसे इस मद से बेहतर किया जा सकता है, जिससे लोगों को लाभ मिले। जो योजना तैयार की गई है, उस योजना को अब ब्लॉकवार बीसीएमओ लेकर संबंधित विधायकों से मुलाकात कर रहे हैं, साथ ही इस योजना की विस्तार से जानकारी दे रहे हैं। चिकित्सकीय संस्थानों में जो संसाधनों की कमी महसूस है उसे भी पूरा किया जा सकेगा, इससे सेवाओं में बेहतरी आएगी।

----

तत्कालीन जिला कलक्टर आनन्दी ने सभी विधायकों को पत्र लिखकर विधायक निधि प्रतिवर्ष के लिए स्वीकृत राशि दो करोड़ रुपए से चिकित्सा विभाग में उपलब्ध संसाधनों व जरूरत की सूची भेजी है, लिखा है कि अवलोकन कर जरूरत के हिसाब से उपकरण व अन्य चिकित्सकीय सामग्री के लिए विधायक निधि में उपलब्ध बजट से यह खरीद की कार्रवाई पूर्ण करवाई जाए।

-----

क्षेत्र के चिकित्सा संस्थानों में क्या-क्या जरूरत है, कितना खर्च होगा का ब्योरा दिया गया है। इन विधायकों को इतना दिया खर्च का ब्योरा... - उदयपुर ग्रामीण में विधायक फूलसिंह मीणा को 1 करोड़ 45 लाख 82 हजार 710 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है। इसे लेकर मीणा ने पत्रिका को बताया कि जो क्षेत्र शहर के नजदीक है इन क्षेत्रों को नहीं ले रहे हैं। बचार, अलसीगढ़, धार जैसे क्षेत्रों अभावग्रस्त क्षेत्रों को लिया है, जहां संसाधन का अभाव है, और वास्तविक जरूरत है। यदि इसकी स्वीकृति हो जाती है तो ठीक हैं, नहीं तो मामला विधानसभा में उठाएंगे। - खेरवाड़ा विधायक दयाराम परमार को 1 करोड़ 39 लाख 11430 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है। इसे लेकर परमार ने पत्रिका को बताया कि जो राशि है उसे चिकित्सा पर खर्च करने के लिए कहा गया है, मेडिकल के प्रस्ताव की गाइडलाइन दी गई है, उस जरूरत के आधार पर राशि दी जाएगी।

- सलूम्बर विधायक अमृतलाल मीणा को 1 करोड़ 45 लाख 82710 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है। मीणा ने पत्रिका को बताया कि पत्र अभी मिला है, उसे पढकऱ देखेंगे कि जहां जरूरत होगी उस आधार पर खर्च करेंगे। जहां 104, 108 की जरूरत होगी तो देंगे, कही भवन या जांच के उपकरणों की जरूरत होगी तो उसे खर्च करेंगे।

- मावली विधायक धर्मनारायण जोशी को 1 करोड़ 95 लाख 14630 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है। जोशी ने पत्रिका को बताया कि मेरे क्षेत्र में चिकित्सा सुविधाओं की क्या जरूरत है, उसकी जानकारी कलक्टर को नहीं है। जिसे जो आवश्यकता है, वह आकलन कर खर्च करेंगे। पहले जो साधन, सेनेटाइजर व मास्क की राशि दी थी, उसका अता-पता नहीं है। करीब साढ़े छह लाख रुपए दिए हैं, लेकिन वह अब तक आया ही नहीं है, करीब तीन माह हो चुके हैं। सीएमएचओ को पत्र दिया है, लेकिन वहां से जवाब तक नहीं आया है।

- झाड़ोल विधायक बाबुलाल को 1 करोड़ 98 लाख 16740 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है।

- वल्लभनगर विधायक गजेन्द्रसिह शक्तावत को 1 करोड़ 72 लाख 74 हजार 920 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है।

- गोगुन्दा विधायक प्रतापलाल भील को 1 करोड़ 89 लाख 64 हजार 230 रुपए का बजट प्रस्तावित किया है।

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned