दुष्कर्म का मामला...बच्ची की हालत नाजुक, पर खतरे से बाहर, जनाना वार्ड में भर्ती सीडब्ल्यूसी की टीम मिली बच्ची से

दुष्कर्म का मामला...बच्ची की हालत नाजुक, पर खतरे से बाहर, जनाना वार्ड में भर्ती सीडब्ल्यूसी की टीम मिली बच्ची से

Mohammed Iliyas | Publish: Jan, 18 2018 01:14:45 AM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

-चचेरे भाई के दुष्कर्म का शिकार हुई नाबालिग को चिकित्सकों ने जांच के बाद जनाना वार्ड में भर्ती किया है।

उदयपुर . चचेरे भाई के दुष्कर्म का शिकार हुई नाबालिग को चिकित्सकों ने जांच के बाद जनाना वार्ड में भर्ती किया है। चिकित्सक ने बालिका की हालत चिंताजनक लेकिन खतरे से बाहर बताई है। अस्पताल पहुंचने के बाद बुधवार दोपहर को बाल कल्याण समिति की न्यायपीठ ने पीडि़ता व उसके परिजनों से मुलाकात की।

 

READ MORE : उदयपुर के महाराणा भूपाल चिकित्सालय का मामला ....हर ओर शोर, आखिर कौन है ‘चोर’


समिति की अध्यक्ष डॉ. प्रीति जैन, सदस्य, डॉ. राजकुमारी भार्गव, सुशील दशोरा, हरीश पालीवाल व बी.के.गुप्ता ने बालिका का उपचार कर रहे चिकित्सक डॉ. सुधा गांधी व डॉ. अर्चना बामरिया से उसके स्वास्थ्य की जानकारी ली। चिकित्सकों ने बताया कि वह बुरी तरह से जख्मी है और संक्रमण फैल गया है। समुचित उपचार में काफी समय लगेगा।

 

न्यायपीठ सदस्यों ने डॉक्टरों से बालिका को विशेष इलाज देने तथा उसकी हर संभव देखरेख करने तथा पर्याप्त चिकित्सा मुहैया कराने के निर्देश दिए। बालिका की नियमित देखभाल के लिए विकल्प संस्थान की कार्यकर्ता उषा शर्मा एवं समीना खान को जिम्मेदारी दी गई है। समिति का कहना है कि बालिका को सपोर्ट पर्सन के रूप में निशुल्क अधिवक्ता उपलब्ध कराया जाएगा तथा चालान पेश होने तक उसकी सुरक्षा की जाएगी। उसे चालान प्रस्तुत होने के बाद पीडि़त प्रतिकर के तहत भी राहत मुहैया कराई जाएगी।

 

एक अन्य बालिका के हुए बयान
फतहनगर क्षेत्र के चंगेड़ी गांव में गत दिनों सामूहिक दुष्कर्म पीडि़ता नाबालिग के बुधवार को न्यायालय में बयान हुए। इससे पूर्व थाना अधिकारी ने बाल कल्याण समिति के समक्ष बालिका को न्यायालय में बयान देने के लिए ले जाने की अनुमति ली। बयानों के बाद बालिका को पुन: राजकीय किशोरीगृह में प्रवेशित करवाया गया।

 

बाबा के कुकृत्य पीडि़त के आज होंगे बयान
नागौर जिले में कुचामन सिटी के एक आश्रम में बाबा के कुकृत्य एवं ब्लैकमेल से पीडि़त युवक के गुरुवार को न्यायालय में बयान होंगे। अधिवक्ता हरीश पालीवाल ने बताया कि उदयपुर निवासी युवक के साथ गत दिनों नागौर स्थित एक आश्रम के मठाधीश श्यामचरण दास महंत द्वारा दुष्कर्म करने तथा उसे महिला का रूप धारण करवाकर अन्य के पास भेज कर दुष्कर्म करने व रुपए कमाने का मामला घंटाघर थाने में दर्ज है, जिसमें पुलिस अनुसंधान कर रही है। पुलिस ने घटनास्थल के निरीक्षण कर कई लोगों के बयान भी लिए थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned