उदयपुर की मदार नहर में पैंथर शावक की भूख से मौत

मदार गांव में नहर में मिला 6 महीने के शावक का शव

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 09 Jan 2021, 11:00 AM IST

उदयपुर. शहर के समीप मदार तालाब के पास एक पैंथर शावक का गुरुवार शाम को शव मिला। सूचना पर वन विभाग की टीम ने मौके पर जाकर उसके शव को रेस्क्यू किया। मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भूख सामने आया है।
ग्राम पंचायत मदार के पास मदार नहर में पत्थरों के ऊपर शावक का शप पड़ा था। ग्रामीणों की सूचना पर क्षेत्रीय वन अधिकारी दिलीप गुर्जर मौके पर पहुंचे। वहां से मौका पर्चा बनाया गया जिसमें पैंथर के नाखून आदि सुरक्षित थे, शरीर पर किसी भी प्रकार की चोट के निशान नहीं थे। करीब छह महीने के शावक को वन विभाग ने अपने कब्जे में लिया और शुक्रवार को शावक का पोस्टमार्टम कराया गया। चेतक सर्कल स्थित पशु चिकित्सालय में डा. करमेन्द्र प्रताप सिंह, डा. महेन्द्र मेहता व डा. सुरेश जैन की टीम ने पोस्टमार्टम किया। आरओ दिलीप गुर्जर ने बताया कि बाद में पैंथर का सीतामाता नर्सरी में अंतिम संस्कार किया गया।

मरे हुए पक्षियों को न छूए और पास जाए, सूचना जल्दी दें
उदयपुर. बर्ड फ्लू के संभावित रोग प्रकोप की स्थिति पर चर्चा, एहतियाती आवश्यक कदम उठाने एवं संबंधित विभागों में समन्वय स्थापित करने के साथ ही रोग के प्रति जनजागरूकता को लेकर के लिए विभागीय अधिकारियों की बैठक गुरुवार को कलेक्ट्रेट में हुई। पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ.भूपेन्द्र भारद्वाज ने कहा कि किसी भी स्थान पर एक साथ बहुत अधिक पक्षियों के मरने की कोई घटना सामने आती है तो ऐसी स्थिति में मरे हुए पक्षियों को छूने अथवा उनके पास जाने का प्रयास न करें और इस संबंध में तुरंत पशुपालन विभाग के नियंत्रण कक्ष को सूचित करे।

Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned