अब तक शुरू नहीं हो पाया डेडिकेटेड कॉविड सेंटर

संसाधनों का अभाव
कलक्टर के थे निर्देश: कोविड-19 मरीजों को भर्ती करने एवं इलाज की व्यवस्था हो सुनिश्चित
घर-घर सर्वे में मरीजों की संख्या बढ़ी, दवाइयों की कमी

By: surendra rao

Published: 03 May 2021, 06:06 PM IST

सलूंबर. (उदयपुर). क्षेत्र में कोरोना केस बढऩे पर जिला मुख्यालय पर स्थित चिकित्सालय में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या से चिंतित प्रशासन ने जिले के दूसरे बड़े चिकित्सालय सलूंबर पर डेडिकेट कोविड सेंटर चालू करने के 6 दिन पूर्व आदेश जारी कर इलाज एवं व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किए, लेकिन संसाधनों की कमी से नगर मुख्यालय पर डेडिकेट कोविड सेंटर शुरू नहीं हो पाया। चिकित्सा विभाग द्वारा घर-घर करवाए जा रहे सर्वे में प्रतिदिन सर्दी, जुकाम, खांसी के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, लेकिन उन्हें वितरण करने वाले दवाइयों के किट पर्याप्त मात्रा में नहीं मिलने पर प्रशासन को भामाशाह की मदद लेनी पड़ रही है।
जिला कलक्टर चेतन देवड़ा के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी ने 27 अप्रेल को राजकीय सामान्य चिकित्सालय सलूंबर के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को पत्र लिखकर निर्देशित किया कि सामान्य चिकित्सालय सलूंबर को डेडिकेट कोविड हेल्थ केयर सेंटर के रूप में संचालित किया जाना है। सामान्य चिकित्सालय में कोविड.19 मरीजों को भर्ती करने एवं इलाज करने की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं तथा प्रतिदिन शाम 4:00 बजे तक अद्योहस्ताक्षरकर्ता को मेल के माध्यम से सूचना देना सुनिश्चित कराएं। डेडिकेट कॉविड सेंटर के लिए सामान्य चिकित्सालय में संसाधनों की कमी के चलते संचालित नहीं हो पाया, चिकित्सालय के अंदर वार्ड में स्थित कॉविड सेंटर चलाने के लिए करीब 8 पेशेंट के बेड लगने जैसी ही व्यवस्था है तथा पीएम केयर्स से मिले 10 वेंटिलेटर में से 9 वेंटिलेटर उदयपुर मुख्यालय पर भेज दिए गए। यहां एक ही वेंटिलेटर शेष है तथा 28 डॉक्टर में से 10 डॉक्टर कार्यरत हैं लेकिन इनमें से भी फिजिशियन समेत 2 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी उपलब्ध नहीं है।
........................
शीघ्र शुरू करने
का प्रयास
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एवं दवाओं के किट के लिए भामाशाह से बातचीत चल रही है। शीघ्र ही डेडिकेट कोविड सेंटर शुरू हो उसके लिए विभाग एवं प्रशासन दोनों प्रयासरत हैं, दवाओं के लिए 8 हजार किट की मांग थी, लेकिन 500 किट ही उपलब्ध हो पाए है।
मणिलाल तीरगर, उपखंड अधिकारी, सलूंबर
........................
संसाधनों की कमी के कारण कार्बेट सेंटर शुरू नहीं हो पाया है। अति शीघ्र इसी सप्ताह कोविड शुरू हो जाएगा।
डॉ. तरुण मेघवंशी, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, सलूंबर
......................
घर-घर सर्वे जारी है तथा सर्वे में सर्दी खांसी जुकाम के मरीजों की संख्या के अनुरूप दवाओं के किट की कुछ कमी रही है, लेकिन भामाशाह की मदद से दवा किट की व्यवस्था की जा रही है। जरूरत पर सभी मरीजों को समय पर दवा उपलब्ध कराने के लिए पूर्ण प्रयास टीम द्वारा किया जा रहा है।
डॉ. गजानंद गुप्ता,
खंड चिकित्सा अधिकारी

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned