video : उदयपुर में अण्डरपास मांग रहे 18 गांव वाले हाइवे किनारे धरने पर बैठे

Madhulika Singh | Publish: Oct, 26 2018 05:03:01 PM (IST) | Updated: Oct, 26 2018 05:03:02 PM (IST) 72 mangalam fun square, Durga Nursery Road, Shakti Nagar, Udaipur, Rajasthan 313001, India

www.patrika.com/rajasthan-news

हेमन्त आमेटा/ उदयपुर. राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 76 के फोरलेन से सिक्सलेन निर्माण के कार्य के दौरान करीब 18 गांवों के लोगों के वहां आने-जाने वाले रास्ते पर अंडरपास नहीं देने के विरोध में इन गांवों के लोगों ने शुक्रवार को भी धरना दिया, लोग पिछले चार दिन से धरना दे रहे है। ग्रामीणों ने प्रशासन व पुलिस को सूचित करने के बाद हाइवे किनारे पर धरना देते हुए प्रदर्शन किया और चेताया कि जल्द ही वे अपना विरोध तेज करेंगे। गाड़वा मार्ग पर ग्रामीणों ने सुबह से ही धरना शुरू कर दिया, धरने पर बारी-बारी से अलग-अलग गांवों के लोग बैठे, साथ ही इन गांवों से कॉलेज जाने वाले छात्र-छात्राएं, स्कूली बच्चों और महिलाओं ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, सबका कहना था कि सिक्स लेेन बनने के बाद उनके गांव से हाइवे पर आने-जाने के दौरान उनके सामने हर समय जान का खतरा होगा। ग्रामीणों ने कहा कि वे उनकी वाजिब मांग रख रहे है लेकिन नेशनल हाइवे मान नहीं रहा है, जबकि एक-दो ढाणी व बस्ती की बजाय 18 गांवों को ध्यान में रखते हुए अंडरपास शीशम की घाटी पर देना चाहिए। -- लोगों ने प्रशासन व हाइवे के सामने रखा ये पक्ष - करीब 18 गांव से आने-जाने वाले शीशम की घाटी-गाड़वा रोड स्थित हाइवे पर निकलते है। - शीशम की घाटी से पहले डबोक की तरफ मधुफला में और उदयपुर की तरफ तुलसीदास की सराय में हाइवे अंडरपास बना रहा जहां इतने गांव का लिंक नहीं है। - अंडरपास उन दोनों स्थानों पर भले बनाए लेकिन 18 गांव वालों के लिए शीशम की घाटी में अंडरपास की बड़ी जरूरत है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned