उदयपुर में नगर निगम के निर्माण का क्षेत्रवासियों ने किया विरोध और बोले...ठेले वालों के लिए नाली बना रहे, हमारे लिए बजरी नहीं

- नाली बनाने के काम का बुधवार को क्षेत्रवासियों ने विरोध दर्ज करवाते हुए काम रुकवाया

By: Jyoti Jain

Published: 18 Jan 2018, 11:47 AM IST

उदयपुर . भूपालपुरा में बंसी पान तिराहे के पास से कलक्टर बंगले के पीछे होकर शास्त्री सर्कल मोड़ तक नाली बनाने के काम का बुधवार को क्षेत्रवासियों ने विरोध दर्ज करवाते हुए काम रुकवाया। उन्होंने सवाल उठाया कि भूपालपुरा में टूटी सडक़ बनाने की मांग रखते तो बजरी पर रोक का बहाना बनाते हैं वहीं नालियां बनाने के लिए बजरी है। उन्होंने आरोप लगाया कि ठेलों का गंदा पानी निकालने के लिए नाली बनाई जा रही है।

 

READ MORE : आगामी बजट में उदयपुर को मिल सकती है इस ट्रेन की सौगात, केंद्रीय रेल मंत्री ने दिए संकेत

 

अपराह्न करीब ढाई बजे बंसी पान वाले चौराहे पर भूपालपुरा क्षेत्र के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने नगर निगम के दोहरे मापदंडों को लेकर आक्रोश जताया। चक्काजाम करने के बाद निगम से कनिष्ठ अभियंता भगवती खारोल मौके पर पहुंचे। लोगों ने खारोल से पूछा कि इस कार्य का टेंडर बताओ तो उन्होंने कहा कि लेकर आता हूं मगर विरोध को देखते हुए वे टेंडर लेकर नहीं लौटे।

 

लोगों ने बताया कि कलक्टर के बंगले के पीछे गंदे पानी निकासी के लिए लाखों रुपए खर्च कर नाली सिर्फ वहां खड़े रहने वाले ठेलों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाई जा रही है। सीवरेज लाइन डालने के बाद इस नाली की जरूरत ही नहीं थी। उन्होंने कहा कि निगम के जेईएन को जब यह बताया तो जवाब दिया कि यह अस्थायी नाली बना रहे हैं। बाद में इसे बंद कर देंगे तो लोगों ने कहा कि अस्थायी नाली के लिए सरकारी धन का इस प्रकार दुरुपयोग क्यों कर रहे हैं। मौके पर राजेश खत्री, अनुराग मेहता व नेता प्रतिपक्ष दिनेश श्रीमाली ने भी इसका विरोध किया।

 

ठेलों के आगे वाहनों से सडक़ सकरी
क्षेत्रवासियों ने बताया कि जिन ठेलों को लाभ देने के लिए नाली बनाई जा रही है, उन ठेलों को हटाने के लिए तो वे संघर्ष कर रहे है, इन ठेलों पर आने वाले लोग अपने चारपहिया वाहन मुख्य सडक़ पर खड़े कर देते हैं जिससे आधी सडक़ बाधित हो जाती है।

Jyoti Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned