गृहमंत्री कटारिया ने यूआईटी में ली समीक्षा बैठक, आयड़ नदी के विकास को लेकर लिया ये बड़ा निर्णय

गृहमंत्री कटारिया ने यूआईटी में ली समीक्षा बैठक, आयड़ नदी के विकास को लेकर लिया ये बड़ा निर्णय

Mukesh Hingar | Publish: Jan, 09 2018 04:32:41 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर. शहर की विभिन्न योजनाओं और आयड़ के विकास को लेकर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने सोमवार को समीक्षा बैठक ली।

उदयपुर . शहर की विभिन्न योजनाओं और आयड़ के विकास को लेकर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने सोमवार को समीक्षा बैठक ली। बैठक में आयड़ नदी में पाथ-वे बनाने के काम को निर्णय किया गया कि जब वहां सीवरेज लाइन का कार्य पूरा कर दिया जाएगा। इसके बाद पाथ-वे का निर्माण किया जाए। गृहमंत्री कटारिया ने संबंधित विभागों से विकास कार्यों की समीक्षा रिपोर्ट बिन्दुवार ली।

 

 

बैठक में बताया गया कि सीवरेज लाइन के सहारे-सहारे आयड़ पाथ-वे बनाया जाएगा। बैठक से ही कटारिया ने स्वायत्त शासन निदेशक पवन अरोड़ा से मोबाइल पर बात की और बताया कि आयड़ नदी के दोनों ओर सीवरेज ट्रंक लाइन के कार्य को मौके पर शीघ्र प्रारंभ करवाया जाए। साथ ही आयड़ नदी शहरी सीमा में आ रहे भाग में विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान जल संसाधन विभाग के अधिशासी अभियंता ने आयड़ नदी में 6 स्थानों पर एनीकट बनाने के कार्य की जानकारी देते हुए कहा कि इनमें से तीन के कार्यादेश शीघ्र जारी कर दिए जाएंगे एवं शेष के प्रस्ताव भी तैयार करवा लिए गए है।

 

READ MORE: PATRIKA STING: उदयपुर चिकित्सा विभाग की ऐसी हालत चौंका देगी आपको, समझौते के बावजूद दर्द से गुजरने को मजबूर यहां के लोग

 

कटारिया ने आयड़ नदी के दोनों किनारों पर पौधरोपण का प्रस्ताव वन विभाग के अफसरों को दस दिन में तैयार करने को कहा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से देबारी से काया राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण संबंधी कार्यों एवं कार्य निष्पादन में आ रही समस्याओं पर विचार-विमर्श किया गया। प्रतापनगर चौराहा पर फ्लाईओवर के प्रस्ताव समीक्षा कर प्राधिकरण को अनुमोदन के लिए प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण करने को कहा। बैठक में प्रस्तावित एग्रोटेक टॉवर, किसान भवन के विस्तार एवं सुविधाओं के विकास सहित बलीचा मंडी परियोजना के विकास कार्यों की समीक्षा की।

 

 

बैठक में ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा, यूआईटी चेयरमैन रवीन्द्र श्रीमाली, जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक, यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता, अधीक्षण अभियंता संजीव शर्मा, राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजना के निदेशक सुनील यादव, डीएफओ ओ.पी. शर्मा, आर.के.जैन, मंडी सचिव भगवान सहाय जाटव, सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता हेमन्त पनेडिया आदि उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned