Curfew in Bhl-16 कॉलोनियों के लोगों को 52 दिन बाद छूट मिलेगी, हालात 4 मई जैसे न हो जाएं, आज रहे अनुशासित तो होगी बड़ी जीत

भीलवाड़ा.़ कोरोना से निपटने के लिए शहर 52 दिन से कफ्र्यू में बंद है। सोमवार से थानेवार लोगों को बाजार आकर खरीदारी की छूट मिलेगी। छूट से व्यापारिक वर्ग के साथ आमजन खुश है। सब चाहते है कि कोरोना के खिलाफ जंग जीतते शहर की जिंदगी पुराने ढर्रे पर लौटे। इसके लिए जिला प्रशासन का हरसंभव सहयोग करने को तैयार है।

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 10 May 2020, 08:04 PM IST

16 कॉलोनियों के लोगों को 52 दिन बाद छूट मिलेगी, हालात 4 मई जैसे न हो जाएं, आज रहे अनुशासित तो होगी बड़ी जीत

परिचर्चा : 52 दिन बाद ढील को लेकर ये बोले शहरवासी

भीलवाड़ा.़ कोरोना से निपटने के लिए शहर 52 दिन से कफ्र्यू में बंद है। सोमवार से थानेवार लोगों को बाजार आकर खरीदारी की छूट मिलेगी। छूट से व्यापारिक वर्ग के साथ आमजन खुश है। सब चाहते है कि कोरोना के खिलाफ जंग जीतते शहर की जिंदगी पुराने ढर्रे पर लौटे। इसके लिए जिला प्रशासन का हरसंभव सहयोग करने को तैयार है। नगर परिषद ने शहर में दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंस का घेरा खींच दिया लेकिन प्रशासन की चिंता है कि हालात 4 मई जैसे न हो जाएं। जब बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी थी और प्रशासन को ढील खत्म कर वापस कफ्र्यू लगाना पड़ा। इधर, प्रशासन व शहर के प्रबुद्ध लोग मानते हैं कि सब कुछ पुलिस के सहारे संभव नहीं है। जनता को अनुशासन दिखाना होगा।

न उठाएं बेजा फ ायदा

ढील के दौरान प्रशासन के आदेश की पालना हो। लोग सजग रहें। लोगों को चाहिए कि जिस थाना क्षेत्र के लोगों को छूट मिली, वे ही बाजार आएं। अनुशासित रहे और बेवजह घर से न निकले। ढील का बेजा फायदा न उठाएं।
विनोद शर्मा, संयुक्त सचिव, भूपाल क्लब

सुभाषनगर करें सहयोग

पहले दिन सुभाषनगर क्षेत्र को ढील का फ ायदा मिलेगा। क्षेत्र की 16 कॉलोनियों के लोगों को 52 दिन बाद छूट मिलेगी। लोग जरूरत के हिसाब से घरों से निकलें। जरूरतमंद ही बाजार आएं। बाजार में भीड़ न करें। जनता सहयोग करें।
सुरेंद्रसिंह मोटरास, सुभाषनगर

फु टवियर को भी दें राहत

ढील से माहौल सुधरेगा। लोग जरूरत की चीजें खरीद सकेंगे। व्यापारिक वर्ग का पूर्ण सहयोग रहेगा। थाना क्षेत्र की जनता संयमित व अनुशासित ढंग से बाजार आए। प्रशासन फ ुटवियर की थोक व फु टकर दुकानों को भी खोलने की अनमुति दें।
रमेश खोतानी, फु टवियर व्यवसायी

सफेद गोले में रहें

कोरोना के खिलाफ जीत की तरफ अग्रसर हैं। दुकानों के बाहर लोग सोशल डिस्टेंसिंग की पूर्ण पालना करें और मास्क जरूर लगाएं। इंद्रा मार्केट में दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंस के लिए गोले बनाए जा चुके, इनमें ही रहकर खरीदारी करें।
जय, किराणा व्यवसायी

सरकार आमजन की करें मदद

मध्यमवर्ग के लिए जिला प्रशासन कुछ नहीं कर रहा है। चयनित परिवारों को रसद विभाग रसद निशुल्क दे रहा है। संगठन भी मदद कर रहे है। आमजन की सुनवाई घर बैठे हो और आवश्यकता की चीज मिल जाए तो कोई बाजार क्यों जाएगा। कोमल खींयाणी, गृहिणी
ढील की करेंगे पालना

कफ्र्यू में ढील की पालना करूंगा। अन्य से भी कराऊंगा। ढील में लोग अनुशासित तरीके से दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंस के गोले में रहे। युवा धैर्य रखें। निर्माणाधीन भवनों के बाहर से लोगों को बिखरी निर्माण सामग्री हटा लेना चाहिए।
अभिषेक पंचोली, संवेदक

घूमने न निकल जाएं

छूट का मतलब यह नहीं है कि घरों से निकल बाहर घूमो। पार्क जाओ व सडक़ों पर वाहन दौड़ाओं। कोरोना से हम तब ही जीत पांऐगे जब प्रशासन का साथ देंगे और शहर के लिए सोंचेगे। जरूरी है, घर के भीतर रहते हुए कोरोना से लड़े।
देवीसिंह दुग्गड़, आरसी व्यासनगर

काम धंधों को दें मंजूरी

52 दिन से कारोबार बंद है। घरेलू कार्य नहीं हो रहे है। राशन की समस्या बड़ी नहीं है। काम धंधे शुरू करने की जरूरत है। काम शुरू न होने से परिवार के समक्ष आर्थिक चुनौती बढ़ गई। ज्यादा पीड़ा मध्यमवर्ग को झेलनी पड़ रही है।
अशोक नागवानी, गारमेंटस व्यवसायी

ना दिखाए अति उत्साह

पहली छूट में शहरी बाशिन्दे अति उत्साह नहीं दिखाते तो आज शहर में ऐसी स्थिति नहीं बनती। सभी लोगों को नई व्यवस्था में सहयोग करना चाहिए। यह समझना चाहिए कि शहर में लॉकडाउन है और कफ्र्यू में सिर्फ चार घंटे की छूट है। प्रदीप वर्मा, कर्मचारी
महिलाएं बरतें सावधानी
परिवार का सहारा मोबाइल कारोबार ठप है। मोबाइल कोरोबार संचालन को छूट मिलनी चाहिए। सुभाषनगर थाना क्षेत्र की महिलाओं से आह्वान है कि छूट के दौरान सोमवार को पूरी सावधानी बरतें। जरूरी चीजों की खरीदारी ही की जाए।

अनुपमा राठौड़, गृहिणी

Corona virus
Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned