हाजिरी के अंगूठे में उलझे, सरपट दौड़े फरमान ढेर

नहीं शुरू हो पाई ऑनलाइन उपस्थिति प्रक्रिया

- ना वेब-ना व्यवस्थाएं, हालात बदहाल

भुवनेश पण्ड्या

उदयपुर. गुरुजी स्कूल में तय समय पर पहुंचे और पूरे समय के बाद स्कूल छोड़े। इस मकसद से सरकार की मंशा के अनुरूप ऑनलाइन उपस्थिति प्रक्रिया शुरू होनी थी, लेकिन बदहाल वेब कनेक्शन व व्यवस्थाएं, शिक्षकों की नामर्जी और बद इन्तजामी के चलते शुरू नहीं हो पाई। गौरतलब है कि इस संबंध में शिक्षा मंत्री से लेकर शिक्षा निदेशक तक ने फरमान जारी कर दिए, लेकिन ये अब तक अमल में नहीं आ पाए हैं। ये काम होना थायह है फरमान शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा की ओर से लिए गए फैसले के तहत माध्यमिक शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता ने आदेश जारी कर प्रदेश के विद्यालयों में शिक्षकों के लिए शाला दर्पण पर ऑनलाइन उपस्थिति का निर्णय पारित किया था, लेकिन अधिकांश स्कूलों में पूर्ण संसाधन नहीं है। वही कम्प्यूटर शिक्षक के अभाव में स्कूलों के कम्प्यूटर धूल फांक रहे हैं। शाला दर्पण की साइट ज्यादातर समय ओवरलोड रहती है। जिस पर परीक्षा परिणाम, छात्रवृत्ति एवं अन्य इतने अधिक ऑनलाइन कार्य किए जा रहे हैं जिससे वह पहले से ही बहुत धीमी गति से चलती है, इससे साइट पूरी तरह से ब्लॉक हो जाती है।-----ये भी देखेंगेशाला दर्पण लॉगिन कर स्टाफ टैब में प्रदर्शित स्टाफ डेली अटेडेंस मॉड्यूल के माध्यम से ऑनलाइन उपस्थिति प्रक्रिया संपन्न की जानी है, स्टाफ डेली अटेडेंस मॉड्यूल में संबंधित विद्यालय का नाम व पीईईओ विद्यालय होने की स्थिति में संबंधित स्कूल व समस्त अधीनस्थ राप्रावि व राउप्रावि के नाम प्रदर्शित होंगे। ब्लॉक, जिला व संभाग स्तर पर क्रमश: संबंधित सीबीइओ, सीडीइओ और रेंज जेडी की ओर से पूर्वोक्त ऑनलाइन उपस्थिति अंकन की व्यवस्था उनके लॉगिन में रहेगी।सीएम को लिखा है पत्र इसे लेकर हमने सीएम को पत्र लिखा है कि इस तरह के जो आदेश हैं, वह इन व्यवस्थाओं में पूरा करना संभव नहीं है। कई स्कूलों में कम्प्यूटर की सुविधा नहीं है तो कई स्कूलों में वेब कनेक्शन उपलब्ध नहीं।गोपालसिंह आसोलिया, प्रदेश मीडिया प्रभारी राजस्थान शिक्षक संघ (एकीकृत)कहते हैं अधिकारी जिन स्कूलों में व्यवस्थाएं है, वहां तो इसे शुरू करने को कहा गया है, जहां कमियां हंै, उन्हें दूर करने का प्रयास कर रहे हैं, जल्द ही निरीक्षण में पूरी हकीकत सामने आ जाएगी।शिवजी गौड़, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी

bhuvanesh pandya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned