फसल सहेजने में जुटे किसान

खेत में खड़ी है पकी हुई फसल, काटने को नहीं मिल रहे मजदूर,
ऊ पर से बारिश का जोखिम

By: surendra rao

Published: 30 Mar 2020, 05:53 PM IST

उदयपुर .पाणुन्द. उदयपुर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बादल छंटने के साथ मौसम खुल गया। इसके साथ ही किसानों ने राहत की सांस ली। कहीं फसल की कटाई तो कहीं खलिहानों को सहेजने का काम जोरों पर है।
किसानों पर कोरोना और मौसम की मार
झाड़ोल. अन्नदाता की फसल खेतों में पकी हुई खड़ी है। किसानों को फसल कटाई के लिए मजदूर नहीं मिल रहे हैं, तो ऊपर से मौसम का जोखिम भी सता रहा है। गेहूं, चना की फसल खेत में पक कर तैयार है। लॉकडाउन के चलते फसल कटाई के लिए मजदूर और हार्वेस्टर नहीं मिल रहे हैं। ऊपर से मौसम खराब बना हुआ है। तहसील में तीन दिन पूर्व हुई बारिस हुई थी। मजबूरी में चार से छह एकड़ के कई किसान परिवार महिलाओं को साथ लेकर खुद ही फसल काटने में जुट गए हैं। बारिस से किसान की चिंता बढ गई है। सहायक कृषि अधिकारी गौरीशंकर जोशी ने बताया कि बरसात एवं कोरोना के कारण ६१०० हैक्टेयर में से करीब ६०० से ७०० हैक्टेयर में ही गेहूं की कटाई हुई है।

Show More
surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned