उदयपुर में एक के बाद एक सुलग रहे पहाड़, दौड़ रही दमकलें, मशक्कत कर रहे कर्मचारी

हर दूसरे द‍िन सुलग रही पहाडि़यां

By: madhulika singh

Published: 25 Apr 2018, 06:03 PM IST

उदयपुर . गर्मियों में पहाडिय़ों के सुलगने का दौर ऐसा चल पड़ा है कि अरावली की हर पहाड़ी एक के बाद एक सुलगती नजर आ रही हैं। यहां दमकलें रात दिन सिर्फ पहाडिय़ों की आग बुझाने में ही दौड़ रही हैं। वहीं, दमकलकर्मियों को भी पहाड़ों पर इस भीषण गर्मी में आग बुझाने में पसीने छूट रहे हैं क्योंकि एक हवा के झोंके साथ ही आग आगे से आगे बढ़ती जाती है जिस पर आसानी से काबू नहीं पाया जा सकता है। अभी जयसमंद और सज्जनगढ़ की पहाडिय़ां पिछले तीन दिन से सुलग रही थीं तो वहीं, मंगलवार दोपहर को उदयसागर चौराहा एवं जिंक कॉलोनी के पीछे पहाड़ी पर आग लग गई। आग कुछ ही समय में पहाड़ी की चोटी की तरफ फैल गई। बाद में हिंदुस्तान जिंक के दमकलों ने आग पर नियंत्रण कर लिया, लेकिन रात को आग वापस लग गई। बाद में सुबह इस पर फिर से काबू पा लिया गया।

 

READ MORE : निजी से सरकारी स्कूलों में कितने बच्चे आए, बताओ... सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को देनी होगी रिपोर्ट

 

मावली (निप्र). मावली तहसील की फलीचडा ग्राम पंचायत के समीप नाथद्वारा-फतहनगर रोड पर मंगलवार दोपहर 2 बजे भीषण आग लग गई। जानकारी के अनुसार दोपहर करीब 2 बजे ग्राम पंचायत कार्यालय से 100 मीटर की दूरी पर मिठुनाथ की जमीन पर अचानक आग लग गई। समीप से गुजर रहे गांव के ग्रामीणों ने भीषण आग को देख शोर मचाया। जिस पर सरपंच गोवर्धनसिंह राणावत सहित दर्जनों ग्रामीण मौके पर पहुंचे। धीरे-धीरे भीषण आग एक किलोमीटर क्षेत्र के दायरे में फेल गई। मौके पर ग्रामीणों ने 4 से 5 टेंकर को बुलाकर आग बुझाने का प्रयास किया। सरपंच राणावत ने मावली उपखण्ड अधिकारी जितेन्द्र ओझा को सूचना दी। मौके पर फतहनगर की भवाल फैक्ट्री एवं उदयपुर से 2 दमकलें भी पहुंची, लेकिन जब तक भीषण आग और फेलते हुए गांव तक पहुंच गई। ग्रामीणों ने टेंकरों एवं प्याउ से आग बुझाने का प्रयास किया। इसके बाद दोनों दमकलों ने लगभग साढ़े 3 घंटे की मशक्कत के बाद शाम करीब साढ़े 5 बजे आग पर काबू पाया। इसी तरह खेरवाड़ा के निकटवर्ती ग्राम छाणी में वननाका पहाड़ा के अन्तर्गत वननाका छाणी माता मगरे की वन भूमि पर सोमवार दोपहर 1 बजे अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग बढऩे लगी एवं करीब 2 हैक्टेयर वन क्षेत्र में फैल गई। गंभीरता को देखते हुए नजदीकी वननाका झांझरी एवं सागवाड़ा से भी वन विभाग को सूचना दी। जिस पर दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची। सूचना पर खेरवाड़ा तहसीलदार मोहकमसिंह, पुलिस मौके पर पहुंची। बड़ी मशक्कत के बाद शाम 5 बजे तक आग पर काबू पाया।

 

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned