बारिश की पहली झमाझम ने इन गांवों का मुख्य आबादी से काट दिया संपर्क

कच्चे मार्ग पर वाहनों का फंसना जारी

By: Sushil Kumar Singh

Published: 20 Jun 2019, 09:44 PM IST

उदयपुर/ गोगुंदा. गोगुंदा-ओगणा रोड पर आमजन की सुविधा के लिए जारी सड़क निर्माण कार्य प्री-मानसून की बरसात के साथ ही ग्रामीणों के लिए सिरदर्दी बन गया है। पहली बरसात के साथ बरसे पानी से मार्ग में कीचड़ के साथ बरसाती पानी भर गया। विपरीत हालात में मार्ग से जुड़े गांवों का संपर्क भी कटने का समाचार है, जबकि सड़क के कच्चे हिस्सों में दुपहिया व चौपहिया वाहनों के फंसने का सिलसिला शुरू हो गया है। स्थानीय लोगों की इस समस्या को लेकर लोक निर्माण विभाग के जिम्मेदार उदासीन बने हुए हैं।
गौरतलब है कि तत्कालीन सरकार ने गोगुंदा से ओगणा रोड पर पडावली तक 19 किलोमीटर हिस्से में सड़क निर्माण के लिए 18 करोड़ 34 लाख रुपए का बजट दिया था। पीडब्ल्यूडी ने निविदा प्रक्रिया पूरी कर संवेदक को 1 जनवरी 18 कार्यादेश जारी किया। लेकिन, डेढ वर्ष बीतने के बाद भी ४ किलोमीटर रोड के हिस्सों में जरूरी तीन से चार बड़ी पुलियाओं का कार्य बाकी है। ऐसे में बरसात के बीच मार्ग पर आवागमन बंद हो गया है। फंसे वाहनों को एक्सवेटर की मदद से बाहर निकाला जा रहा है।

बढ़ रही है नाराजगी
स्थानीय अनुभव ले तो संबंधित सड़क वाकल के गांवों में पहुंच का मुख्य माध्यम है। निर्माण की शुरुआत से ही ग्रामीण धूल फांक रहे हैं और अब बरसात में उन्हें कीचड़ से जूझना पड़ रहा है। नाल , मोखी, पडावली सहित बड़े राजस्व गांवों के बाशिंदों की समस्या बढ़ गई है। अनुबंध शर्त के तहत संवेदक को ३१ मार्च तक निर्माण कार्य पूरा करना था।

एनओसी रही वजह
सड़क पर ४ किलोमीटर का हिस्सा वनविभाग के अधीन आ रहा था। विभागीय एनओसी के अभाव में निर्माण कार्य अटका था। नोली मोखी के समपी पुलिया पर रिटर्निंग वॉल का कार्य चल रहा है। शीघ्र ही चुनाई कर आवागमन शुरू करेंगे।
सी.आर. प्रेमी, अधिशासी अभियंता, पीडब्ल्यूडी

 

Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned