बारां सहित उदयपुर संभाग के जिलों में सबसे ज्यादा दावे खारिज

वन अधिकार पत्र में जून तक 35425 दावे खारिज प्रदेश में

By: Mukesh Hingar

Published: 18 Jul 2021, 11:54 PM IST

मुकेश हिंगड़
उदयपुर. वन अधिकार पत्र देने के मामले में राजस्थान में अभी 35425 दावे खारिज हुए है। सबसे बड़ी बात यह है कि इनमें सबसे ज्यादा बारां और बाकी उदयपुर संभाग के जिलों में है। उदयपुर की ही बात करें तो यहां भी 6 हजार से ज्यादा दावे खारिज हुए है। सामुदायिक वन अधिकार पत्र देने के मामले में तो प्रदेश 500 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाया है।
वन अधिकार पत्र के दावों के खारिज होने का यह आंकड़ा 35 हजार के पार हो गया, जैसे-जैसे दावे खारिज होते गए वैसे-वैसे यह आंकड़ा बढ़ता गया है। वैसे राज्य सरकार ने जब 28 हजार से ज्यादा दावे खारिज हुए तब भी इन दावों को फिर से जांच कराने को कहा था और इस पर काम भी हुआ लेकिन दावा करने वालों का कहना है कि उनकी सुनी नहीं गई। वन अधिकार कानून पर काम करने वाले जंगल जमीन संगठन ने तो लिखित में भी दिया था कि खारिज दावों की फिर से सुनवाई नहीं हुई।

इन जिलों में सबसे ज्यादा दावे खारिज

जिला... निरस्त दावे
बांसवाड़ा... 7613
प्रतापगढ़... 6986
उदयपुर... 6940
बारां... 5314
डूंगरपुर... 4005
सिरोही... 1505


पूरे प्रदेश में वन अधिकार एक नजर में

84847 दावे आए
44456 दावे स्वीकृत व अधिकार पत्र जारी
35425 दावे निरस्त किए
4966 दावे प्रकियाधीन

प्रदेश में सामुदायिक वन अधिकार पत्र की स्थिति

1890 दावे प्राप्त हुए
356 दावे स्वीकृत किए दावे
1328 दावे निरस्त किए
206 प्रकियाधीन
(सभी आंकड़े जून 2021 तक के)

Mukesh Hingar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned