video: मोदी की योजनाओं के नाम नए, काम यूपीए के ही, उदयपुर में बोले पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश

video: मोदी की योजनाओं के नाम नए, काम यूपीए के ही, उदयपुर में बोले पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश

Mukesh Hingar | Publish: Oct, 25 2017 02:29:18 PM (IST) | Updated: Oct, 25 2017 02:54:26 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

-पूर्व केंद्रीय मंत्री कलम कार्यक्रम में पहुंचे

 

उदयपुर . पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा कि वर्तमान में मोदी सरकार की जो योजनाएं चल रही हैं, वे सभी वही हैं जो यूपीए सरकार ने शुरू की थी। बस उनके नाम नए दिए गए हैं। जब यूपीए सरकार में बतौर मंत्री उन्होंने निर्मल भारत योजना शुरू की तो उसका इसी भाजपा ने विरोध किया लेकिन आज उसी योजना को स्वच्छ भारत के नाम से चला रहे हैं।

मंगलवार को उदयपुर में प्रभा खेतान फाउण्डेशन और रेडिसन ब्लू के ‘कलम ’ कार्यक्रम में आए जयराम रमेश ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यूपीए सरकार की कई योजनाओं को मोदी नए नाम से देश में चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में 23 परियोजनाओं के मोदी सरकार ने नाम बदले हैं लेकिन हमें काम से मतलब है। बस नाम ही तो नया है, काम तो वही है। रमेश बोले- वर्ष 2011 में जब मैंने पहली बार देश में ‘शौचालय पहले-देवालय बाद’, ‘शौचालय नहीं तो दुल्हन नहीं’ के नारे देते हुए खुले में शौच मुक्त भारत बनाने की बात कही तो उस समय भाजपा, आरएसएस, बजरंग दल ने मेरी कड़ी आलोचना की थी। रमेश ने कहा, उस समय जो लोग निर्मल अभियान और इन नारों पर चुप थे, आलोचना कर रहे थे आज वे ही लोग स्वच्छ भारत अभियान की वकालत कर रहे हैं। इस बात की मुझे खुशी है।

 

READ MORE: सोहराबुद्दीन-तुलसी एनकाउंटर केस में अब हुआ ये बड़़ा़ खुलासा, बड़़े़े रसूखदारों के बरी होते ही आया इनका नम्‍बर..

 

खुले में शौच की जगह कांग्रेस मुक्त पर ध्यान
रमेश ने कहा कि मोदी सरकार ने ‘निर्मल भारत अभियान’ का नाम बदल कर देश को ‘खुले में शौच मुक्ति अभियान’ चलाया जिसका स्वागत करता हूं लेकिन सरकार इस पर काम करने की बजाय भटक गई। उन्होंने कहा कि सरकार इस पर काम करने की बजाय अभियान से भटक कर कांग्रेस मुक्त भारत करने पर ध्यान दे रही है जबकि सरकार को स्वच्छ भारत पर काम करने की जरूरत है।


कानून की पालना में सख्ती जरूरी
रमेश ने कहा कि देश में कानून तो कई बने हुए हैं लेकिन उनकी पालना में सख्ती जरूरी है। पर्यावरण संरक्षण को लेकर उन्होंने कहा कि सिंगापुर जैसे अन्य देशों के नागरिक सरकार का पूरा साथ देते हैं। ऐसे में जरूरत है कि हमारे देश के लोग भी अपनी मानसिकता बदलें। हालांकि, यह बिना सख्ती के संभव नहीं है। कार्यक्रम के दौरान स्वाति अग्रवाल, शुभ सिंघवी, मूमल भंडारी, रिद्दिमा दोशी, श्रद्धा मुर्डिया व कनिका अग्रवाल सहित कई सदस्याओं के अलावा अनेक गणमान्य लोग मौजूद थे।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned