उचक्कों को महंगा पड़ गया लालच करना

PETROL PUMP ROBBING: धरे गए पेट्रोल पंप लूट से पहले , चार आरोपी गिरफ्तार, दो की तलाश जारी, झपट्टा मारकर स्वर्णाभूषण लूटने की कर चुके हैं एक दर्जन वारदात

कन्हैयालाल सोनी . सलूम्बर . उचक्कों नगर होकर गुजरते गामड़ा-सलूम्बर मार्ग पर शनिवार रात पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाते हुए चार आरोपियों को पुलिस ने मौके से धरदबोचा। इससे पहले पुलिस की भनक पाकर आरोपियों ने मौके से भागने की असफल कोशिश की, लेकिन पुलिस की मुस्तैदी ने चार जनों को दबोच लिया। वहीं दो अन्य आरोपी मौके से भाग छूटे। आरोपियों ने पुलिस के समक्ष झपट्टा मारकर एक दर्जन से अधिक महिलाओं के स्वर्णाभूषण छीनने का अपराध भी कबूला। पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है।
इससे पहले रात के समय सलूम्बर-करावली रोड के डायला गांव में निकट पंप लूट की योजना बनाने की मुखबिरी के बाद पुलिस ने धरपकड़ कार्रवाई की। पंप से कुछ दूरी पर झाडिय़ों में छिपे आरोपियों की पुलिस ने घेराबंदी की। हथियारबंद आरोपियों ने थानाधिकारी हनवंतसिंह एवं अन्य जाब्ते के साथ खुद का बचाव भी किया। इस कार्रवाई में चार आरोपी धरे गए। मामले में गामड़ा पाल के जेलावत फला निवासी भंवर उर्फ भंमरिया पुत्र भगवाना मीणा, केशा पुत्र हीरा मीणा, माना उर्फ मानिया पुत्र हीरा मीणा, गोपाल उर्फ लोगर पुत्र गोता मीणा को गिरफ्तार किया गया। वहीं सती की चोरी निवासी सुरेश उर्फ हुरजा पुत्र देवा मीणा व जांबुड़ा फला निवासी नानिया पुत्र भेरा मीणा जंगली झाडिय़ों का फायदा उठाते हुए अंधेरे में भाग गए। पुलिस की मानें तो आरोपी झपट्टा मारकर स्वर्णाभूषण लूट की कई वारदातें कर चुके हैं।

कबूल किए अपराध

पुलिस के हत्थे चढ़ी गैंग का सरगना केशा मीणा है। आरोपियों ने चार दिन पहले सलूंबर थाना क्षेत्र के बस्सी गांव में जगत सिंह पुत्र कुबेर सिंह के कान की सोने की बालियां(वारा) , सेरिया गांव में महिला के कान से सोने की बालियां, डाल गांव में महिला के कान की बालियां, झल्लारा थाना क्षेत्र के शेषपुर मोड़ पर महिला के कान से सोने के कन फूल (गाला), धोलागढ़ खेड़ा में आदमी के कान से बालिया (वारा), डगार गांव में औरतों के गले से चेन, मेडी भटवाड़ा में आदमी के कान की बालियां, कमला आम्बा क्षेत्र से महिला के कान की बालियां, बड़ावली गांव में बुजुर्ग के कान से वारा, मल्लाड़ा सीपुर ढाणी महिला के कान की बालियां सहित अन्य वारदातों को अंजाम दिया।

हाथ में हथियार, जेब में मिर्ची
पकड़ी गई गेंग के सदस्य हाथों में हथियार के नाम पर तलवार, लोहे की सब्बल के अलावा जेब में मिर्च पाउडर रखते हैं। हथियार से काम नहीं बनने की स्थिति में आरोपी जरूरत पर लोगों की आंख में मिर्ची डालकर वारदात कर जाते हैं या फिर मौके से भाग निकलते हैं।

Manish Kumar Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned