पोते ने दादा को धोखे में रख जमीन अपने नाम करवाई, मामला दर्ज

बुजुर्ग दादा के साथ धोखाधड़ी fraud case से दानपत्र तैयार करवाकर जमीन हड़पने पर पोते के विरुद्ध हिरणमगरी थाने udaipur police में मामला दर्ज किया गया। पानेरियों की मादड़ी निवासी वेणीराम पुत्र मियाराम मनोरिया व पुत्र जमनाशंकर ने जितेन्द्र पुत्र जगदीशचन्द्र मेनारिया, रीता मेनारिया व लावा सरदारगढ़ राजसमंद निवासी सुनील खटीक के विरुद्ध धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया। परिवादी का कहना था कि उसके नाम से पानेरियों की मादड़ी में राजस्व रेकर्ड में जमीन दर्ज थी जो कि उसके ससुराल में कोई पुरुष वंशज नहीं होने से उसके नाम दर्ज हुई।

By: Bhagwati Teli

Published: 01 Jul 2019, 01:50 PM IST

उदयपुर. बुजुर्ग दादा के साथ धोखाधड़ी से दानपत्र तैयार करवाकर जमीन हड़पने fraud in udaipur पर पोते के विरुद्ध हिरणमगरी थाने में मामला दर्ज किया गया। पानेरियों की मादड़ी निवासी वेणीराम पुत्र मियाराम मनोरिया व पुत्र जमनाशंकर ने जितेन्द्र पुत्र जगदीशचन्द्र मेनारिया, रीता मेनारिया व लावा सरदारगढ़ राजसमंद निवासी सुनील खटीक के विरुद्ध धोखाधड़ी का मामला दर्ज crime in udaipur करवाया। परिवादी का कहना था कि उसके नाम से पानेरियों की मादड़ी में राजस्व रेकर्ड में जमीन दर्ज थी जो कि उसके ससुराल में कोई पुरुष वंशज नहीं होने से उसके नाम दर्ज हुई।

उक्त कृषि भूमि निजी कार्य के लिए विक्रय कर दी जिसको जमनाशंकर व जगदीश मेनारिया ने वेणीराम के नाम पर क्रय कर पुन: रजिस्ट्री करवा दी थी। जिसका उल्लेख वेणीराम ने 24 जून 2006 की वसीयत में कर रखा है। आरोपी जितेन्द्र ने वेणीराम जो उसके रिश्ते में दादा लगते है उनके पास रहता रहा। उसने दादा को महाविद्यालय खोलकर उनके नाम से रखने की बात कहीं। दादा ने इसकी सहमति दे दी। उसके बाद आरोपी ने दादा से कागजों पर हस्ताक्षर करवाए और उन्हें किसी कार्यालय में अधिकारी के सामने ले गया। दादा को बताया कि जमीन कम पड़ रही है कि इस कारण कॉलेज नहीं खोलना बताकर कागज फाड़ दिए। परिवादी जमनाशंकर जमीन पर बाड़ करने गया आरोपी ने रोक दिया। जांच करने पर पता चला कि उसने दादा को धोखे में लेकर दानपत्र लेकर जमीन अपने नाम करवा ली।

Bhagwati Teli Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned