Watch : गुरु पूर्णिमा पर गुरु के चरणाें में नवाया शीश लिया आशीर्वाद

pramod soni | Updated: 16 Jul 2019, 01:57:27 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

- चंद्र ग्रहण lunar eclipse के दौरान मंदिरों में होंगे भजन-कीर्तन, रात 1.21 बजे शुरू होगा ग्रहण

प्रमोद सोनी / उदयपुर. गुरु पूर्णिमा का पर्व मंगलवार धूमधाम से मनाया जाएगा। इस अवसर पर मंदिरों व आश्रमों में विशेष आयोजन होंगे। शिष्य अपने गुरुओं के चरणों की पूजाकर शिष्य आशीर्वाद लेंगे। मंदिरों में विशेष पूजा अनुष्ठान होंगे। गुरु पूर्णिमा पर शहर के जगदीश मंदिर, अस्थल आश्रम, मीठाराम मंदिर, बाईजी राज कुंड, सूरजपोल स्थित निरंजनी बालाजी मंदिर, खास ओदी स्थित धूणी माता मंदिर, चांदपोल बाहर स्थित बड़ा रामद्वारा व शहर के विद्यालयों, अखाड़ों आदि स्थानों पर आयोजन होंगे। इस अवसर पर शिष्य अपने गुरुओं की पूजा-अर्चना कर नारियल, प्रसाद व दक्षिणा भेंट करेंगे और आशीर्वाद लेंगे।जगदीश मंदिर के पुजारी रामगोपाल ने बताया कि पूर्णिमा को ठाकुरजी का पंचामृत स्नान करवाया जाएगा। इसके बाद विशेष शृंगार होगा जिसमें टोपी मुकुट धारण नहीं करवाया जाएगा। इस दौरान ठाकुरजी को पाग धारण करवाई जाएगी। अस्थल आश्रम के रास बिहारी शरण के अनुसार गुरु पूर्णिमा guru purnima के अवसर पर सुबह ठाकुरजी का अभिषेक किया जाएगा। इसके बाद सभी आचार्य, गुरुओं की तस्वीरों का पूजन होगा। दिनभर गुरु पूर्णिमा पर्व मनाई जाएगी। इस दौरान भक्तों की भीड़ रहेगी। वहीं मंदिर में दिनभर भजन- किर्तन होंगे। सूरजपोल स्थित निरंजनी बालाजी मंदिर के महंत सुरेश गिरि ने बताया की सुबह से मंदिर में भक्तों की भीड़ रहेगी। इस दौरान गुरू की पूजा अर्चना की जाएगी। उन्होंने बताया कि सूतक के दौरान शिष्य अपने गुरुओं की पूजा सूखी पूजन सामग्री से कर सकेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned