गर्मी बढ़ी, आधे हैंडपंप खराब, सूख रहे कंठ

एक वर्ष से ग्राम पंचायत नहीं आया हैण्डपम्प मिस्त्री
40 में से 20 से अधिक हैण्डपम्प खराब

By: surendra rao

Published: 06 Apr 2021, 07:22 PM IST

झाड़ोल. (उदयपुर).पंचायत समिति क्षेत्र के ग्राम पंचायत मगवास के कई फलों में पानी का संकट गहराने लगा हैं। ग्राम पंचायत में स्थित हैण्डपम्पों में से अधिकतर हैण्डपम्प खराब पड़े हुए हैं। वहीं दूसरी ओर ग्राम पंचायत सही करने वाला हैण्डपम्प मिस्त्री सालभर से पंचायत से नदारद हैं। सरपंच द्वारा साधारण सभा, जलदाय विभाग, पंचायत समिति में लिखित शिकायत देने के बावजूद भी हैण्डपम्प मिस्त्री ने हैण्डपम्पों की सुध नहीं ली। ग्राम पंचायत के कई फलों (ढाणियों) में हैण्डपम्प खराब पडे हैं। ४० में से २० हैण्डपम्प खराब
ग्राम पंंचायत मगवास में ठाकुर जी मन्दिर के पास ब्राह्ममण बस्ती मगवास, अम्बामाता मन्दिर के पास कुम्हारों की बस्ती मगवास, डामरफला रोशनलाल के घर के पास, कसौटिया फला में जीवा कसौटिया के घर के पास, हरणाखादरी फला में सवा चव्हाण के घर के पास, मगरी फला किरट, दामाफला किरट, हकरा पिता रता के घर के पास थूरिया, मांगीलाल के घर के पास थूरिया, भूमियावाली घाटी बरबली, नका पिता वेसा के घर के पास, उदा पिता लिम्बा के घर के पास, अनिया पिता नवला के घर के पास, अम्बालाल चव्हाण के घर के पास मगवास टेकराफला स्थित हैण्डपम्प खराब पडे हुए है। इसके साथ ही अन्य कई हैण्डपम्प किसी में पाईप कम तो किसी भी पाईप लिकेज होने के कारण बन्द पडे हुए हैं। सरपंच की शिकायत पर नहीं दे रहे ध्यान
सरपंच मन्जू देवी ने बताया कि हैण्डपम्पों को ठीक कराने के लिए उसके द्वारा हैण्डपम्प मिस्त्री को कई बार कहा गया लेकिन उसके द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा हैं। सरपंच द्वारा हैण्डपम्प मिस्त्री दलपतसिंह झाला की शिकायत साधारण सभा में, पंचायत समिति विकास अधिकारी के समक्ष लिखित में, जलदाय विभाग को की गई, फिर भी ग्राम पंचायतों में खराब पडे हैण्डपम्पों की सुध नहीं ली। सरपंच ने बताया कि एक वर्ष में एक भी बार हैण्डपम्प मिस्त्री द्वारा उपस्थिति प्रमाण पत्र प्रमाणित नहीं कराया गया। फिर भी अधिकारियों की मिलीभगत से नियमित वेतन बिल बना रहे हैं।

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned