Hello English Premium (UPER): बिना शिक्षक के विद्यार्थियों को अंग्रेजी का ज्ञान देने की शुरुआत,ऐसे करनी होगी एप डाउनलोड

Hello English Premium (UPER): बिना शिक्षक के विद्यार्थियों को अंग्रेजी का ज्ञान देने की शुरुआत,ऐसे करनी होगी एप डाउनलोड

Mukesh Hingar | Publish: Dec, 05 2017 10:54:21 AM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर.अब कॉलेज के विद्यार्थियों को सरकार ने एक एप (हेलो इंग्लिश प्रीमियम) से अंग्रेजी का स्तर नि:शुल्क सुधारने की कवायद शुरू कर दी है।

उदयपुर . अब कॉलेज के विद्यार्थियों को अंग्रेजी पढऩे के लिए किसी शिक्षक की जरूरत नहीं होगी। सरकार ने एक एप (हेलो इंग्लिश प्रीमियम) से अंग्रेजी का स्तर नि:शुल्क सुधारने की कवायद शुरू कर दी है। राजस्थान सरकार अप स्किल्स प्रोफिशिएंसी इन इंग्लिश फॉर राजस्थान प्रोग्राम के तहत फ्री एंड्राइड एप्लिकेशन हेलो इंग्लिश प्रीमियम यूपीईआर शुरू किया है। इसकी खास बात यह रहेगी कि एप के माध्यम से आम व्यक्ति भी अंग्रेजी सीखने के बाद पास होने पर सर्टिफिकेट ले सकेगा।

 

अब तक प्रदेश के 21 हजार कॉलेज विद्यार्थियों ने इस पर अंग्रेजी पढऩा शुरू कर दिया है। यह एप बिना किसी शिक्षक के भी बच्चों को अंग्रेजी सिखाएगा। राज्य में अंग्रेजी विषय में विद्यार्थियों का स्तर बढ़ाने व उन्हें नई जानकारियों से अपडेट रखने के लिए यूपीईआर प्रोग्राम कार्य करेगा।


तीन माह की ट्रेनिंग के बाद सर्टिफिकेट
एप डाउनलोड होने के बाद यूजर को रोजाना होमवर्क दिया जाएगा, जो उसे 24 घंटे में पूरा करना होगा। तीन माह तक लगातार ऑनलाइन क्लास चलेगी। जो यूजर नियमित होमवर्क नहीं करेगा, उसे हिदायत के बाद बाहर कर दिया जाएगा। इस एप से अंग्रेजी विषय की हर प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। तीन माह के प्रशिक्षण के बाद सर्टिफिकेट दिया जाएगा।

 

READ MORE: WEATHER @UDAIPUR: न्यूनतम तापमान लुढ़का, रिमझिम के बीच शहर में सर्दी का अहसास हुआ तेज


21 हजार पंजीयन
राज्य में अब तक 290 कॉलेज इससे जुड़े हैं, जिनमें से 219 विशेष सक्रिय हैं। करीब 21 हजार विद्यार्थियों के पंजीयन हो चुके हैं। आम तौर पर प्रत्येक व्यक्ति के लिए ये कंपनी 1500 रुपए चार्ज करती है, लेकिन कॉलेज पासकोड के जरिए इसे नि:शुल्क सीखा जा रहा है। देश की बड़ी 27 कंपनियों ने इस कंपनी के साथ अनुबंध किया है, जिससे उनके कार्मिक अंग्रेजी सीख रहे हैं।

 

तीन स्तर पर होगी निगरानी
यूजर की इंग्लिश में कितना सुधार हुआ है, इसकी निगरानी तीन स्तर पर की जाएगी। इसे एंड्रायड मोबाइल में अपलोड करने के लिए 18002007767 नम्बर पर मिस कॉल देना होगा। इसके बाद मोबाइल के इन बॉक्स में एक लिंक आएगा। इस लिंक को सर्च करने पर हेलो इंग्लिश प्रीमियम एप डाउनलोड हो जाएगा। इसके बाद यूपीईआर एक्सेस कोड डाल कर प्रोफाइल बनाई जाएगी।

 

इसमें नाम, जिला, कॉलेज, मोबाइल नम्बर डालने होंगे। कॉलेज, जिला राज्य स्तर पर निगरानी करने के बाद व्यक्तिश: रैंक निकाली जाएगी। विद्यार्थियों के अतिरिक्त आमजन भी अपनी अंग्रेजी सुधार के लिए इसका नि:शुल्क प्रयोग कर सकेंगे। इस एप के जरिए अंग्रेजी भाषा व्याकरण उच्चारण संबंधी लेसन लिए जा सकेंगे।

 

शुरुआती दो माह में 126 विद्यार्थियों ने 70 में से 50 यूनिट प्राप्त कर लिए, उन्हें गत 14 नवम्बर को जयपुर बुलाकर पूरी जानकारी दी गई। 10 सप्ताह के इस कोर्स का लाभ कुछ दूर दराज के कॉलेज विद्यार्थियों को नहीं मिल पा रहा है, कई विद्यार्थियों के पास एड्रॉयड मोबाइल नहीं होने के कारण ये समस्या आ रही है। प्रयास है कि उन्हें भी जल्द फायदा हो।
विनोद भारद्वाज, नोडल ऑफिसर, हेलो एप कॉलेज शिक्षा राजस्थान

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned