उदयपुर के होटल-रेस्त्रां बेचना चाहते हैं शराब का स्टॉक

अनुमति मिले तो बिकेगा पांच करोड़ से ज्यादा का माल, 450 छोटे-बड़े होटल्स हैं उदयपुर में, 73 होटल्स के पास शराब पिलाने का लाइसेंस

By: jitendra paliwal

Updated: 17 May 2020, 11:17 AM IST

उदयपुर. लॉकडाउन में दुनिया के पर्यटन नक्शे पर चमकती रही लेकसिटी में भी होटल और रेस्त्रां कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इस बीच वहां स्टॉक में पड़ी करोड़ों रुपए की शराब को कारोबारी बेचकर पैसा अपने हाथ में रखना चाहते हैं। चूंकि अब पर्यटन कारोबार को ऑक्सीजन मिलने की फिलहाल कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है।
पत्रिका ने जब उदयपुुर के कुछ होटल कारोबारियों से बातचीत की, तो सामने आया कि यहां करीब पांच करोड़ रपए से ज्यादा कीमत की शराब स्टॉक में पड़ी हुई है। चूंकि मार्च में पुराना स्टॉक भी खत्म होता है, लेकिन लॉकडाउन लगने से वह भी पड़ा रहा। साथ ही होटल्स-रेस्त्रां ने शादियों के सीजन के मद्देनजर भी काफी मात्रा में स्टॉक कर लिया था, जो तमाम ऑर्डर निरस्त होने से पड़ा रह गया है। इसके अलाव गर्मी की छुट्टियों में देश-विदेश से लोग खासतौर से समय बिताने के लिए आते हैं।
होटल व्यवसायी स्वाति अग्रवाल ने बताया कि अप्रेल में काफी शादियां थी। इसी सीजन में कई बड़ी पार्टियां भी होती हैं। मुश्किल यह भी है कि अगर अनुमति मिल भी जाती है तो उदयपुर के बड़े 15-20 होटल्स के पास काफी महंगी शराब का स्टॉक है, जिसे स्थानीय बाजार में खपाना आसान नहीं होगा। सरकार इजाजत दे तो शराब बेचकर हाथ में कुछ तरलता हासिल की जाए। चंूकि पर्यटन को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है और सबसे आखिर में इसी उद्योग की रिकवरी होगी। चूंकि सबसे पहले जरूरी चीजों का खर्चा निकालने के बाद ही लोग आखिर में पर्यटन पर निकलेंगे। राजस्थान में पर्यटन इकोनॉमी की रीढ़ है, लेकिन सरकार ने अभी तक कोई पैकेज नहीं निकाला है।
- खर्चे ही खर्चे
होटल कारोबारी बताते हैं कि आज की तारीख में सबसे ज्यादा हालत पर्यटन की खराब है। व्यवसाय अचानक बंद करना पड़ा। स्टॉफ को तनख्वाह, रेस्टोरेंट में खाद्य पदार्थों के होने का नुकसान, कर्ज की किस्तें-ब्याज, मेंटेनेंस जैसे बड़े खर्चे हैं।

बेचने की अनुमति मिलनी चाहिए
हमने सरकार से माल खरीदा है, तो इसे बेचने की अनुमति भी मिले। सरकार खुद बेच रही है। बैठाकर नहीं पिलाएं, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए उसे बेच तो सकें।
भगवानलाल वैष्णव, अध्यक्ष, होटल एसोसिएशन, उदयपुर

jitendra paliwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned