कितने शिक्षित बेरोजगारों को 3500 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है....

शिक्षित बेरोजगारों का मुद्दा उठाया जोशी ने

-सलूम्बर विधायक ने किसानों को ऋण सुविधा देने के प्रावधानों का उठाया मामला

- विधानसभा में उदयपुर.

By: bhuvanesh pandya

Published: 02 Mar 2021, 08:04 AM IST

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने शिक्षित बेरोजगारों को मिलने वाले बेराजगारी भत्ते पर सवाल किया। उन्होंने प्रदेश में कितने शिक्षित बेरोजगारों को 3500 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है, तहसीलवार व जिलेवार संख्या विवरण मांगा, वहीं क्या सरकार उक्त बेरोजगारों को रोजगार से जोडऩे, रोजगारपरक प्रशिक्षण देने व उनके कार्य कौशल में अभिवृद्धि कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए क्या कोई कार्य योजना बना रही है, इस पर सवाल किया। जवाब में मुख्यमंत्री युवा संबल योजना 2019 के अन्तर्गत सभी बेरोजगारों को 3500 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता नहीं देने, पात्र महिलाए, ट्रांसजेण्डर व विशेष योग्यजन आशार्थियों को 3500 प्रतिमाह तथा पुरुष आशार्थियों को 3000 रुपए प्रतिमाह देने का प्रावधान बताया गया। योजना की शुरुआत फ रवरी 2019 से 31 दिसम्बर 2020 तक उक्त योजनान्तर्गत लाभार्थियों की कुल संख्या 249433 बताई गई, इनमें से 3500 रुपए प्रतिमाह प्राप्त करने वाले, महिला विशेष योग्यजन, ट्रांसजेण्डर लाभार्थियों की संख्या 105267 है। अगले सवाल के जवाब में बेरोजगारों को रोजगार से जोडऩे, रोजगारपरक प्रशिक्षण देने व उनके कार्य कौशल में अभिवृद्धि कर उन्हे आत्मनिर्भर बनाने के लिए कौशल नियोजन एवं उद्यमिता विभाग निरन्तर प्रयासरत बताया गया।

---------

सलूम्बर विधायक अमृतलाल मीणा ने सहकारी समितियों के फसली ऋण व्यवस्था पर सवाल किए, इसमें ऐसे किसान जो डिफ ाल्टर हैं, उन्हें फ सली ऋ ण सुविधा देने के प्रावधान, विधानसभा क्षेत्र सलूम्बर के सराड़ा, झल्लारा, सेमारी व जयसमंद पंचायत समिति क्षेत्र के वर्ष 2018 से 2020 तक के कितने ऐसे डिफ ाल्टर किसान हैं, जिन्हें पूर्व में दी जा रही राशि 5000 से कम है। कम राशि वाले किसानों को ऋ ण सुविधा देकर उनकी राशि समायोजित कर लाभ दिया गया। साथ ही उन्होंने सरकार से पूछा कि क्या सरकार वर्तमान में लघु व सीमान्त काश्तकार, जिनकी डिफाल्टर राशि 5000 रुपए से कम है उन्हें उक्त सुविधा देने का विचार रखती है। जवाब में बताया कि राज्य के केन्द्रीय सहकारी बैंकों द्वारा 16 अप्रेल, 2020 से ऐसे अवधिपार ऋणियों को नियमानुसार पुन: ऋ ण उपलब्ध करवाने की अवधिपार राशि 5000 से कम थी तथा उनकी यह राशि ऋ ण माफी योजनाएं 2018 अथवा 2019 में माफ होने से उनकी ओर कोई राशि बकाया नहीं रही।
विधानसभा क्षेत्र सलूम्बर के सराड़ा, झल्लारा, सेमारी व जयसमंद पंचायत समिति क्षेत्र में उदयपुर केन्द्रीय सहकारी बैंक द्वारा वर्ष 2018 से 2020 तक राशि 5000 से कम के अवधिपार ऋ ण माफ ी से लाभान्वित किसानों को दिए गए ऋ ण की जानकारी दी गई।
----
गोगुन्दा में गत वर्ष विभिन्न योजनाओं में 485 लोग लाभान्वित

गोगुन्दा विधायक प्रताप भील ने विवाह सहायता छात्रवृत्ति से जुड़े सवाल लगाए, इसमें विधान सभा क्षेत्र गोगुन्दा में विगत एक वर्ष में विवाह सहायता, छात्रवृत्ति तथा अन्य सभी योजनाओं से लाभान्वित किए गए लोगों की जानकारी व क्षेत्र में सभी योजनाओं में नामवार, ग्रामवार व्यय राशि की सूचना भी मांगी। जवाब में इस योजना की जानकारी दी गई, इसमें विवाह सहायता योजना मण्डल द्वारा वर्ष 2011 में लागू की गई थी, जो 31 दिसम्बर 2015 तक प्रभाव में थी। इसके अतिरिक्त विधानसभा क्षेत्र गोगुन्दा में विगत एक वर्ष में मण्डल द्वारा संचालित योजनाओं में कुल 485 हिताधिकारियों को लाभान्वित किया गया है।
----

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned