चीन और पाकिस्तान से भारत को खतरा, देश की सुरक्षा के लिए चुने बेहतर

नागरिक गोष्ठी में बोले वक्ता

By: Sushil Kumar Singh

Published: 10 Apr 2019, 01:24 AM IST

उदयपुर. स्वदेशी जागरण मंच की ओर से आयोजित नागरिक गोष्ठी को बतौर मुख्य वक्ता अखिल भारतीय विचार विभाग प्रमुख एवं उत्तर मध्य क्षेत्र संगठक सतीश कुमार ने विचार व्यक्त किए। कहा कि लोकतंत्र के इस महापर्व में 100 प्रतिशत मतदान करते हुए मजबूत एवं स्वदेशी के अनुकूल सरकार गठन के नागरिक दायित्व को पूर्ण करना सभी नागरिकों को पहला धर्म है। स्वदेशी जागरण मंच ने वर्तमान केन्द्र सरकार से समय-समय पर आर्थिक एवं राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर विभिन्न जन आन्दोलनों एवं संवाद के माध्यमों से दबाव बनाते हुए चीनी आयातों पर प्रतिबन्ध लगाने हेतु, आयातों पर एन्टी डम्पिंग ड्यूटी लगवाने में सफलता प्राप्त की है। इससे चीन के साथ हमारा व्यापार घाटा कम हुआ है। देश के लघु एवं कुटीर उद्योगों को राहत प्राप्त हुई है। देश के रोजगार को बचाने के लिए एवं छोटे व्यापारियों के हित के लिए फरवरी माह में नवीन ई-कॉमर्स नीति का डाफ्ट जारी करवाया है। इससे एक ही दिन में अमेजोन, फ्लिपकार्ट एवं अन्य ई-कॉमर्स में विदेशी कम्पनियों को करोड़ों रूपयों का घाटा हुआ है। देश के नागरिकों के सुस्वास्थ्य के लिए जहर मुक्त खेती को बढ़ावा देने के लिए मंच पूरे वर्ष भर तब खादी अब खाद अभियान चला रहा है। सरकार ने भी जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए पहल प्रारम्भ की है। चीन और पाकिस्तान हमारे शत्रु है। सीमाओं की सुरक्षा के लिए वर्तमान सरकार ने इस संदर्भ में महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। आज अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को एक नई पहचान मिली है। आंतकवाद पर वर्तमान केन्द्र सरकार का कठोर कदम उठाना तभी संभव हुआ है, जब मजबूत जनमत उसके साथ है। देश में गैर कानूनी घूसपैठ, विदेशी कम्पनियों की लूट, कालाधन और भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए मजबूर नहीं मजबूत सरकार का गठन करना है। इसके लिये नोटा समाधान नहीं है, कई बार सरकार या स्थानीय जन-प्रतिनिधि से नाराज होकर हम नोटा का बटन दबाते है, लेकिन हमें यह समझना होगा कि नोटा के बटन दबाने से हम कहीं ऐसा प्रत्याशी नहीं चुन ले जिसें हम वास्तव में नहीं चाहते हैं। लोकतंत्र में हमें राष्ट्र हित की प्राथमिकताएँ तय करनी होगी, नोटा हमारी समस्याओं का समाधान नहीं है। हमें सकारात्मक तरीके से मतदान करना होगा। स्वदेशी विचारों के अनुकूल सरकार बनेगी तो देश का रोजगार बचेगा, किसान, व्यापारी एवं नागरिक खुशहाल बनेंगे। अध्यक्षता गांधी मानव सेवा समिति के निदेशक मदन नागदा ने की। महानगर संयोजक सोहनलाल शर्मा ने बताया कि इस नागरिक गोष्ठी में विभाग संयोजक पुरूषोतम शर्मा, राष्ट्रीय परिषद सदस्य प्रमोद उपाध्याय, पार्षद जगत नागदा, हैत नारायण त्रिवेदी, ब्रदीलाल सोनी, गोपाल कुमावत, नरेन्द्र रांका एवं विभिन्न महिला संगठनों की महिला कार्यकर्ता तथा स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ता एवं प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे। संगोष्ठी का संचालन प्रान्त संयोजक डा. सतीश कुमार आचार्य ने किया।

Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned