अन्तरराष्ट्रीय विकलांग दिवस की पूर्व संध्या पर नारायण सेवा संस्थान का प्रयास, उम्मीद के क्षितिज पर झिलमिलाईं प्रतिभाएं

अन्तरराष्ट्रीय विकलांग दिवस की पूर्व संध्या पर नारायण सेवा संस्थान का प्रयास, उम्मीद के क्षितिज पर झिलमिलाईं प्रतिभाएं

Rakesh Sharma Rajdeep | Updated: 03 Dec 2017, 01:12:32 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर . लेकसिटी सहित देश के विभिन्न राज्यों से आए प्रतिभाशाली दिव्यांग युवक-युवतियों ने हिस्सा लिया

उदयपुर . कुदरत के कहर से शारीरिक रूप से क्षीण कई प्रतिभागियों में किसी के दोनों हाथ नहीं थे तो कोई पांव से लाचार था, कोई दृष्टि बाधित था तो कोई सुन नहीं सकता था, लेकिन इन सबमें एक बात सामान्य थी कि मंच पर वे सभी पूरे उत्साह से अपनी प्रतिभा-कौशल का प्रदर्शन करके हौसलों की उड़ान से कामयाबी का आकाश माप लेने को दृढ़ संकल्पित थे।
मौका था विश्व विकलांग दिवस की पूर्व संध्या पर शनिवार को दिव्यांग फैशन एण्ड टैलेट शो का। नगर निगम के सुखाडिय़ा रंगमंच पर कार्यक्रम में लेकसिटी सहित देश के विभिन्न राज्यों से आए प्रतिभाशाली दिव्यांग युवक-युवतियों ने हिस्सा लिया जिनमें से अधिकतर को पोलियो करेक्शन ऑपरेशन के बाद संस्थान में मॉड्यूलर कृत्रिम अंग लगाए गए। आयोजन का उद्घाटन मुख्य अतिथि विश्व पैरालिम्पिक एथलीट स्पद्र्धा के स्वर्ण पदक विजेता और राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से अलंकृत एथलीट देवेन्द्र झाझडिय़ा व संस्थान संस्थापक चेयरमैन कैलाश ‘मानव’ ने किया।

 


छह श्रेणियों में प्रस्तुतियां
आयोजन के दौरान फैशन राउण्ड विद केलिपर, फैशन राउण्ड विद व्हील चेयर, फैशन राउण्ड विथ क्रेचेस (बैसाखी), फैशन राउण्ड विथ आर्टिफिशियल लिम्ब (कृत्रिम अंग), फैशन राउण्ड विथ ब्लाइंडस तथा वीआरवन प्रस्तुति से नृत्य गीत व शारीरिक सौष्ठव की 6 श्रेणियों में दिव्यांगजनों ने हैरतअंगेज प्रस्तुतियों से समां बांध दिया।

 

 

International Day of Disabled Persons

 

प्रस्तुतियां देकर दर्शक हुए अभिभूत
प्रत्येक श्रेणी में 10-10 बहुरंगी परिधानों में सजे प्रतिभागी के साथ एक सहायक था। इस दौरान दिव्यांग युवतियों के गीत-नृत्यों से सुसज्जित प्रस्तुतियों और वीआरवन ग्रुप के शारीरिक कौशल प्रदर्शन राउण्ड में दोनों पांवों से दिव्यांग मध्यप्रदेश के जगदीश पटेल और उत्तरप्रदेश से आए दिव्यांग योगेश ने व्हील चेयर पर संतुलन के करतब दिखाए तो अतिथियों सहित दर्शकों ने अभिभूत होकर देर तक तालियां बजाकर उनके हुनर को सलाम किया। इनके साथ योगेश व अब्दुल रहमान जैसे दो अन्य दिव्यांगों ने कृत्रिम पांवों के साथ केट वॉक ही नही किया बल्कि अपने शारीरिक सौष्ठव से दर्शकों को प्रभावित किया।

 


ये सब बने साक्षी
इस अवसर पर सिंधी साहित्य अकादमी अध्यक्ष हरीश राजानी, विशिष्ट अतिथि यूआईटी अध्यक्ष रवीन्द्र श्रीमाली, जिलाधीश बिष्णुचरण मल्लिक, देवस्थान विभाग उपायुक्त दिनेश कोठारी, डॉ.आनन्द गुप्ता, एयरपोर्ट स्टेट कमान्डेंट राहुल वर्मा व डॉ. यशवंत कोठारी सहित संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल, निदेशक वंदना अग्रवाल और राजकोट के दिव्यांग तैराक जिगर ठक्कर दिव्यांगों की छिपी प्रतिभाओं के प्रदर्शन के साक्षी बने।


ये सब बने साक्षी
इस अवसर पर सिंधी साहित्य अकादमी अध्यक्ष हरीश राजानी, विशिष्ट अतिथि यूआईटी अध्यक्ष रवीन्द्र श्रीमाली, जिलाधीश बिष्णुचरण मल्लिक, देवस्थान विभाग उपायुक्त दिनेश कोठारी, डॉ.आनन्द गुप्ता, एयरपोर्ट स्टेट कमान्डेंट राहुल वर्मा व डॉ. यशवंत कोठारी सहित संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल, निदेशक वंदना अग्रवाल और राजकोट के दिव्यांग तैराक जिगर ठक्कर दिव्यांगों की छिपी प्रतिभाओं के प्रदर्शन के साक्षी बने।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned