scriptIt will not be easy to file a case against the doctor | डॉक्टर के ​खिलाफ मामला दर्ज करना नहीं होगा आसान | Patrika News

डॉक्टर के ​खिलाफ मामला दर्ज करना नहीं होगा आसान

सरकार ने तय की एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया)

चिकित्सक व चिकित्साकर्मी के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए तय हुई प्रक्रिया- आधी-अधूरी जानकारी से नहीं हो पाएगा आपराधिक प्रकरण दर्ज

चिकित्सक मंडल की राय पर होगा निर्णय

उदयपुर

Published: May 30, 2022 08:19:56 am

अब किसी भी चिकित्सक या चिकित्साकर्मी को किसी मरीज की मौत या उपचार में लापरवाही का जिम्मेदार ठहराकर मामला दर्ज करवाना आसान नहीं होगा। यदि मरीज की मौत का कारण डॉक्टर को बताया जा रहा है, डॉक्टर पर उपचार में उपेक्षा का आरोप है तो निष्पक्ष जांच के लिए चिकित्सक मंडल गठित होगा। इसकी रिपोर्ट पर ही आगे की कार्रवाई होगी। एसपी व पुलिस उपायुक्त की अनुमति के बिना चिकित्सक को गिरफ्तार नहीं किया जा सकेगा। इसके लिए सरकार ने एसओपी यानि मानक संचालन प्रक्रिया बना दी है। इसी के आधार पर प्रकरण दर्ज होकर आगे की कार्रवाई हो सकेगी। सरकार ने 29 मई को इस आशय के आदेश जारी किए।
doctor.jpg
सरकार ने तय की एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया)
-----

नेट से अधूरी जानकारी के बूते दर्ज करवाते है मामला- सरकार की ओर से एसओपी तय की गई पत्रावली में उल्लेख किया गया कि आज के दौर में आमजन में अधिकारों के प्रति जागरूकता बढ़ी है, ऐसे में नेट से अधूरी सूचना लेकर चिकित्सक व चिकित्साकर्मियों के खिलाफ रोगी के परिजन आपराधिक प्रकरण दर्ज करवाते हैं। ऐसे में संबंधित को मानसिक उत्पीडन झेलना पड़ता है। इसका असर कार्यक्षमता पर भी पड़ता है। सुप्रीम कोर्ट ने इस विषय पर कई निर्णयों में विधिक सिद्धान्त प्रतिपादित किए हैं।
------

चीरघर में पोस्टमार्टम का बनेगा वीडियो, बिना चिकित्सक मंडल नहीं हो सकेगा निर्णय

- किसी चिकित्सक, चिकित्साकर्मी, हिंसा व सम्पत्ति के नुकसान का निवारण अधिनियम 208 में इसे परिभाषित किया है। इसमें उपचार के दौरान की गई चिकित्सकीय उपेक्षा के अभियोग की सूचना, परिवाद पुलिस थाने के प्रभारी को मिलने पर वह सीधे रोजनामचे में लिखेगा। यदि सूचना, परिवाद चिकित्सकीय उपेक्षा के कारण मौत से संबधित है तो दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 174 के तहत मामला दर्ज होगा। इस स्थिति में पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी अनिवार्य रूप से होगी।- थानाधिकारी पहले प्राथमिक जांच करेंगे, जांच के दौरान अभियोग के संबंध में स्वतंत्र व निष्पक्ष राय चिकित्सक , चिकित्सक मंडल से प्राप्त करेगा।
- थानाधिकारी द्वारा मेडिकल कॉलेज प्राचार्य, सीएमएचओ को राय प्राप्त करने के लिए प्रार्थना करने पर यह उनका दायित्व होगा कि वह यथाशीघ्र तीन दिन में चिकित्सक मंडल का गठन करेंगे। किसी व्यक्ति की मौत या आघात लगने पर चिकित्सक मंडल अनिवार्य रूप से गठित होगा। इससे जुड़ा प्रकरण है तो उस विषय विशेषज्ञ चिकित्सक को मंडल में जोड़ा जाएगा।- चिकित्सक मंडल बिना किसी भेदभाव के स्वतंत्र निर्णय लेगा, मंडल की ओर से यदि समय पर थानाधिकारी को राय नहीं मिलती है, तो थानाधिकारी प्राचार्य व सीएमएचओ को सूचना देते हुए एसपी व सरकार को भी जानकारी देगा।
- घोर चिकित्सकीय उपेक्षा की जानकारी पर प्राथमिकी दर्ज होगी। जांच कर न्यायालय में आरोप पत्र भेजे जाएंगे। साथ ही सक्षम स्तर से अभियोजन स्वीकृति लेनी होगी।-

-----

सरकार ने आदेश दिए हैं, इसमें पूरी प्रक्रिया के बाद ही निर्णय होगा। एसपी व पुलिस उपायुक्त की अनुमति के बिना चिकित्सक को गिरफ्तार नहीं किया जा सकेगा। साथ ही जांच में सहयोग नहीं करने व स्वयं को अभियोजन से बचने के लिए छिपा रहा हो तो गिरफ्तारी होगी। चिकित्सकों से भी अपेक्षा की गई है कि वे जनसाधारण के जीवन की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कार्य बहिष्कार नहीं कर विधि के अनुसार अपनी मांग रखेंगे।
डॉ. दिनेश खराड़ी, सीएमएचओ, उदयपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar News: तेज प्रताप भी बन सकते हैं मंत्री, बिहार में 16 अगस्त को मंत्रिमंडल विस्तारBilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.