कोनार्क व यूपी रॉयल्स फ ाइनल में

- मेवाड़ महिला प्रीमियर लीग

By: bhuvanesh pandya

Published: 21 Feb 2021, 08:50 AM IST

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. गोल्ड स्पोट्र्स व वंडर सीमेंट क्रिकेट एकेडमी के संयुक्त तत्वावधान में पेसिफि क स्पोट्र्स कॉम्पलेक्स मैदान करणपुर में मेवाड़ महिला प्रीमियर लीग में शनिवार को खेले गए सेमीफ ाइनल में कोनार्क नाइट राइडर्स ने आर सी डब्लयू काठमांडू को 34 रनों से तथा यूपी रॉयल्स ने वंडर वॉरियर्स को 15 रनों से हराकर फ ाइनल में जगह बनाई। पहले सेमीफ ाइनल में कोनार्क नाइट राइडर्स ने मंजू के शानदार अर्धशतक 53 रन व नीतू के 20 रनों की मदद से 134 रन बनाए। काठमांडू की अनन्या ने 2 विकेट लिए। जवाब में काठमांडू की टीम कोनार्क की कसी हुई गेंदबाजी के सामने निर्धारित 20 ओवरो में 4 विकेट खोकर 100 रन ही बना सकी। उसकी तरफ से निकिता ठाकुर ने सर्वाधिक 23 व समजहान ने 17 रन बनाए। इशान चौधरी व डिंपल शेखावत ने 1-1 विकेट लिया। वूमेन आफ द मैच मंजू को राजस्थान महिला टीम की मुख्य चयनकर्ता गंगोत्री चौहान ने पुरस्कार प्रदान किया। दूसरे सेमीफ ाइनल में यूपी रॉयल्स निर्धारित ओवरों में 8 विकेट खोकर 108 रन ही बना सकी। उसकी तरफ से कप्तान फाराह ने एक छोर से शानदार बललेबाजी करते हुए नाबाद 46 रन बनाए। इसके अलावा पूजा ने 19 व काजोल ठाकुर ने 13 रनों का योगदान दिया। वंडर वॉरियर्स की मनीषा चौधरी व काजोल जादौन ने 2-2 तथा सोनल कलाल, चार्वी भारद्वाज व प्रिया यादव ने 1-1 विकेट लिया। जवाब में वंडर वॉरियर्स की टीम फ ाराह व अंशिका वर्मा की घातक गेंदबाजी के सामने मात्र 93 रन बनाकर आउट हो गई। मुस्कान सिंह 43 व सोनल कलाल 13 रन के अलावा कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर पाए। फ ारहा ने 4 तथा अंशिका वर्मा ने 3 विकेट लिए। वूमेन आफ द मैच रही फ ाराह को इस प्रतियोगिता की आयोजक सचिव रेणुका भारद्वाज ने पुरस्कार प्रदान किया। रविवार सुबह दस बजे कोणार्क नाइट राइडर्स व यू पी रॉयल्स के बीच फाइनल होगा। मैच के बाद समापन व पुरस्कार वितरण समारोह होगा। मुख्य अतिथि महाराणा प्रताप हवाई अड्डा निदेशक नंदिता भट्ट, अलका शर्मा प्रबंधक सीपीएस स्कूल व वंदना अग्रवाल नारायण सेवा संस्थान की निदेशक होगी।

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned