दिव्यांग बालक श्रवण का सहारा बना लवीना विकास सेवा संस्थान

श्रवण शारिरिक रूप से विकलांग है लेकिन मन से नहीं

By: jagdish paraliya

Updated: 08 Oct 2021, 05:41 PM IST

श्रवण का भविष्य में डॉक्टर बनने का सपना
झाड़ोल (उदयपुर). उपखंड क्षेत्र के ओगणा में लवीना विकास सेवा संस्थान एक दिव्यांग बालक का सहारा बना। गुरुवार को नेवज सरपंच थावरी बाई व ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष बाबूलाल लखुम्बरा अड़कालिया निवासी एक दिव्यांग बालक श्रवण को शेल्टर होम लेकर पहुंचे।
श्रवण शारिरिक रूप से विकलांग है लेकिन मन से नहीं उसके हौसले बुलंद है, श्रवण भविष्य में डॉक्टर बनने का सपना लेकर लवीना विकास सेवा संस्थान के द्वार पहुंचा। श्रवण की मां नाते चली गई और पिता बालक को पालने में असक्षम है।
श्रवण के एक भाई व तीन बहनों की शादी हो गई। संस्थान निदेशक पूर्बिया ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक मान्धाता सिंह राणावत से वार्ता कर बालक श्रवण के बारे में जानकारी दी। उपनिदेशक ने शीघ्र ही बालक के शिक्षण व आवास की व्यवस्था कराए जाने की बात कही। संस्थान निदेशक पूर्बिया द्वारा बालक श्रवण की स्थिति के बारे में बैंच ऑफ मजिस्ट्रेट सदस्य सुरेशचन्द शर्मा को बताया जिस पर श्रवण के लिए शेल्टर सम्बंधित आदेश लिए गए। लवीना विकास संस्थान के निदेशक द्वारा झाड़ोल उपखंड अधिकारी धायगुडे स्नेहल नाना को भी इसकी जानकारी दी गई।

नाथद्वारा अस्पताल को मिली लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस
नाथद्वारा. शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र के मरीजों को चिकित्सकीय इमरजेंसीमें सुविधा के लिए गोवर्धन राजकीय सामान्य चिकित्सालय में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी के द्वारा एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेन्स को गुरुवार को जयपुर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। डॉ. जोशी ने इस एम्बुलेन्स को अपने जयपुर स्थित निवास सिविल लाइन्स से रवाना करने के अवसर पर कहा कि लाइफ सपोर्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर का शहरों के साथ गांवों तक विस्तार किया जाना आवश्यक है।
बताया कि इस एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेन्स में वेन्टीलेटर, मॉनीटर, इन्फ्यूजन व सम्शन पम्प्स मैन व स्कूप स्ट्रेचर स्पाईन बोर्ड नेबुलाइजर हैड ब्लॉक्स और ऑक्सीजन के दो बड़े सिलेण्डर व एक पोर्टेबल सिलेण्डर की व्यवस्था है। इस प्रकार से इसमें मरीज को आपातकाल में लाइफ सपोर्ट देने की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। डॉ. जोशी ने नाथद्वारा विधानसभा क्षेत्र के लिए इस एम्बुलेन्स को देने के लिए राज्य सरकार का आभार भी ज्ञापित किया। कार्यक्रम के दौरान एनएचएम के अतिरिक्त मिशन निदेशक डॉ. मेघराज सिंह रत्नू, डॉ. सुशील परमार व डॉ. ओपी शर्मा, रविन्द्र पारीक, निजी सचिव मनीष जोशी, योगेश जोशी, स्थानीय अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ के सदस्य भी मौजूद थे। ं

jagdish paraliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned