Lok Sabha Election 2019 : इंतजार हुआ खत्‍म, शुरू हुई मतगणना, प्रत्‍याशियों की बढ़ी धड़़कनें

- लोकसभा चुनाव 2019 Lok Sabha Election 2019

By: madhulika singh

Updated: 23 May 2019, 08:14 AM IST

उदयपुर . आखिर वह घड़ी आ गई जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार था। उदयपुर लोकसभा सीट की मतगणना गुरुवार को सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय परिसर स्थित सामाजिक विज्ञान एवं मानविकी महाविद्यालय (आट्र्स कॉलेज) में शुरू हुई। सुबह आठ बजे से शुरू मतगणना के लिए प्रशासनिक अमला अलसुबह से ही जुट गया। इस बार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र की पांच-पांच वीवीपेट मशीन की पर्चियों की गणना होगी। ऐसे में रुझान दोपहर तक स्पष्ट हो जाएंगे लेकिन परिणाम की घोषणा होने में शाम हो सकती है।

गतगणना के लिए अलसुबह 5 बजे से तृतीय रेंडमाइजेशन होगा। 8 बजे से बैलेट पेपर की गणना और 8.30 बजे से ईवीएम से मतगणना शुरू हो जाएगी। ऐसे में मतगणना के रुझान सुबह ग्यारह बजे तकक आने शुरू हो जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी आनंदी ने बताया कि मतगणना स्थल पर विभिन्न व्यवस्थाओं को लेकर तैयारियां पूर्ण कर ली गई है।

मोबाइल लेकर नहीं आए
उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग की गाइड-लाइन के अनुसार कोई भी व्यक्ति मतगणना स्थल में मोबाइल लेकर प्रवेश नहीं कर पाएगा। मीडियाकर्मियों को भी मीडिया सेंटर में ही मोबाइल के इस्तेमाल की छूट रहेगी। मतगणना परिसर के किसी अन्य हिस्से में मोबाइल का प्रयोग वर्जित रहेगा। इसके बावजूद कोई व्यक्ति मोबाइल लेकर आता है तो निर्वाचन आयोग ने उनके लिए मोबाइल संग्रहण केंद्र बनाए हैं। विवेकानंद सभागार के सामने सडक़ के दोनों ओर बने इन केंद्रों पर मोबाइल जमा करवाए जा सकते हैं।

देखी व्यवस्थाएं
आयोग की ओर से मतगणना के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक मनीष भारद्वाज एवं एमए पटेल ने जिला निर्वाचन अधिकारी के साथ मतगणना स्थल का अवलोकन किया एवं विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

मतगणना भवन में प्रवेश व्यवस्था
मतगणना स्थल पर प्रवेश व्यवस्था के तहत उम्मीदवार एवं उनके अभिकर्ताओं के लिए दो द्वार तय किए गए हैं। गोगुन्दा, झाड़ोल, उदयपुर ग्रामीण व धरियावद विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों से संबंधित कार्मिक व अभिकर्ता महाविद्यालय के गेट नंबर दो से निर्धारित मतगणना कक्ष में प्रवेश करेंगे। खेरवाड़ा, उदयपुर, आसपुर व सलूम्बर विधानसभा से संबंधित लोग महाविद्यालय के गेट नंबर 4 से प्रवेश करेंगे। मतगणना से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी एवं मीडिया प्रतिनिधियों का प्रवेश महाविद्यालय के मुख्य द्वार से होगा।

सर्वाधिक 31 राउंड गोगुंदा क्षेत्र के

गोगुन्दा विधानसभा के 298 मतदान केन्द्रों की मतगणना 30 राउण्ड में, झाड़ोल के 290 मतदान केन्द्रों की मतगणना 29 राउण्ड में, खेरवाड़ा के 323 मतदान केन्द्रों की मतगणना 30 राउण्ड में, उदयपुर ग्रामीण के 268 मतदान केन्द्रों की मतगणना 27 राउण्ड में, उदयपुर शहर के 218 मतदान केन्द्रों की मतगणना 22 राउण्ड में, सलूम्बर के 299 मतदान केन्द्रों की मतगणना 30 राउण्ड में, धरियावद के 302 मतदान केन्द्रों की मतगणना 31 राउण्ड में तथा आसपुर विधानसभा के 277 मतदान केन्द्रों की मतगणना 28 राउण्ड में पूरी होगी।


81 टेबल्स पर होगी गणना

आठों विधानसभा क्षेत्र की मतगणना के लिए 81 टेबल्स गणना कक्ष के अनुसार लगाए जाएंगे। इसमें गोगुन्दा, झाड़ोल, उदयपुर ग्रामीण, उदयपुर, सलूम्बर, धरियावद व आसपुर विधानसभा की मतगणना के लिए उनके निर्धारित मतगणना कक्ष में 10-10 टेबल्स लगाए जाएंगे जबकि खेरवाड़ा की मतगणना 11 टेबल्स पर होगी।
मतगणना कक्ष स्थापित

विधानसभा वार मतगणना कक्ष स्थापित किए गए हैं। भूतल पर स्थापित कमरा नंबर 148 में गोगुंदा विधानसभा, कमरा नंबर 131 में झाड़ोल, कमरा नंबर 168 में उदयपुर शहर, कमरा नंबर 174 में आसपुर एवं कमरा नंबर 165 में सलूंबर विधानसभा की मतगणना होगी। इसी प्रकार मतगणना स्थल के प्रथम तल पर कमरा नंबर 240 में उदयपुर ग्रामीण विधानसभा, 220 में धरियावद तथा कमरा नंबर 282 में खेरवाड़ा विधानसभा की मतगणना होगी।
अंत में वीवीपेट पर्चियों की गणना

निर्वाचन आयोग की नई गाइड-लाइन के अनुसार ईवीएम से राउण्डवार मतगणना समाप्त होते ही वीवीपेट की पर्चियों की गणना शुरू होगी। इसके लिए पूर्व की भांति पोस्टल बैलेट की गणना की समाप्ति का इंतजार नहीं किया जाएगा। निर्देशानुसार लॉटरी से हर विधानसभा क्षेत्र से 5 वीवीपेट की पर्चियों की गणना की जाएगी।


आम लोग ऐसे जान पाएंगे रुझान

विवि के तीनों गेट पर लाउड स्पीकरों से समय-समय पर रुझानों की घोषणा होगी। सूचना केंद्र पर भी लाउड स्पीकर की व्यवस्था की गई है। इस बार निर्वाचन आयोग के सुविधा पोर्टल पर भी समय-समय पर रुझान अपडेट किए जाएंगे।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned