विरासत में मिली मुसीबत

गर्मी के हर सीजन में संकट

By: Pankaj

Updated: 04 Jun 2020, 02:03 AM IST

उदयपुर . सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र न्यू केशवनगर क्षेत्र में तो सालों से हालात विकट ही बने हुए हैं। वार्ड 64 में 20 साल पहले 300 परिवारों के लिए बनी टंकी से ही आज भी जलापूर्ति की जा रही है, जबकि प्रभावित क्षेत्र में दो हजार से ज्यादा परिवार हैं। प्रभावित क्षेत्र के लोगों का कहना है कि नलों से पानी की एक बूंद भी नहीं टपकती। पार्षद से शिकायत करते हैं, लेकिन जलदाय विभागीय अधिकारियों की अनदेखी से पार्षद भी लाचार हैं। वार्ड 64 के अशोक, न्यू अशोक विहार, प्रेमनगर, न्यू प्रेमनगर, शांतिनगर, चंदनवाड़ी 80 फीट रोड, अक्षांश , अभिनंदन कॉम्प्लेक्स, रुद्र विहार, केएलआर विकास समिति, न्यू केशवनगर, सन टावर, पन्ना विहार, जगदम्बा आश्रम, राडाजी का देवरा, हीराबाग, जैन कॉलोनी, कुशाल बाग, सुखाडिय़ा नगर आदि प्रभावित हैं।

नहीं सुनते अधिकारी

सर्दी के मौसम में ही परेशानी आने लगी थी। तब से शिकायत कर रहे हैं। गर्मी आने पर परेशानी बढ़ गई, लेकिन समाधान नहीं किया। जब भी शिकायत करते हैं, मामूली सी जांच करके सब कुछ सही होना बता देते हैं, जबकि आपूर्ति अपर्याप्त हो रही है। शिकायत पर क्षेत्रीय कार्मिक आमजन से दुव्र्यवहार करते हैं और अधिकारी सुनने को तैयार नहीं। वार्ड में स्थाई समस्या है, जिसका समाधान पुरानी लाइन बदलने या टंकी बनने पर होगा। लोग रोज शिकायत करते हैं, लेकिन सुनने वाला कोई नहीं। कल ही एइएन के समक्ष शिकायतें रखी, लेकिन अनसुना कर दिया।
राकेश जैन, पार्षद, वार्ड 64

विभाग का पक्ष
खेमपुरा टंकी से पहले आपूर्ति दो जोन में होती थी। नजदीकी लोगों को ज्यादा मिलता और दूर वालों को नहीं मिलता। सभी को समान आपूर्ति मिले, ऐसा प्रयास किया, जिससे नजदीक वालों को रोज नहीं मिलने से तकलीफ हुई। सुंदरवास में टेल एण्ड की समस्या है, उसका सर्वे करके समाधान करवाएंगे। वार्ड 64 के संबंध में भी पार्षद राकेश जैन से भी बात हुई। एइएन के साथ सर्वे करवाएंगे। टेल एण्ड का समाधान करवाएंगे।

नक्षत्रसिंह चारण, एसइ, पीएचइडी उदयपुर

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned