महाराणा प्रताप को लेकर नौनिहालों को क्या पढ़ा रहे किताबों में, विधानसभा में बोले विधायक

महाराणा प्रताप को लेकर नौनिहालों को क्या पढ़ा रहे किताबों में, विधानसभा में बोले विधायक

Mukesh Hingar | Publish: Jul, 20 2019 01:21:50 PM (IST) | Updated: Jul, 20 2019 07:06:56 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

MAHARANA PRATAP : राजस्थान विधानसभा RAJASTHAN VIDHANSABHA में उदयपुर UDAIPUR के मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने अपनी बात रखी

मुकेश हिंगड़ / उदयपुर. विधानसभा में शुक्रवार को शिक्षा पर हुई चर्चा में मावली (MAVLI) विधायक धर्मनारायण जोशी ने महाराणा प्रताप (MAHARANA PRATAP) व अन्य महापुरुषों के बारे में सही जानकारी पाठ्यक्रम में जोडऩे पर जोर देते हुए कहा कि हम प्रताप के बारे में क्या पढ़ा रहे है, इसे ठीक करने की जरूरत है।
विधानसभा (RAJASTHAN VIDHANSABHA) में चर्चा के दौरान जोशी ने कहा कि स्कूलों में एक कक्षा में पढ़ाया जाता है प्रताप जीते, एक में हारे और एक में पढ़ाते है कि प्रताप का युद्ध अनिर्णय रहा, जोशी ने कहा कि यह पहले से चल रहा है, उन्होंने शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Education Minister Govind Singh Doatasara) को संबोधित करते हुए कहा कि आप पर कोई आरोप नहीं लगा रहा हूं लेकिन इसमें सुधार कीजिए। जोशी ने आदिवासी क्षेत्र से निकली प्रतिभा लिम्बाराम (Limbaram) का उदाहरण देते हुए कहा कि जनजाति क्षेत्र में स्कूलों में ऐसी व्यवस्था कीजिए की प्रात: काल दो घंटे कोई शारीरिक शिक्षक ऐसी प्रतिभाओं को तैयारी कराए क्योंकि वहां बहुत प्रतिभाएं है। जोशी ने कहा है कि शिक्षकों को अशैक्षिक कार्यो में लगाने की व्यवस्था समाप्त होनी चाहिये। जोशी ने शिक्षा विभाग के हाल के उस आदेश पर कडा एतराज जताया जिसमें शिक्षकों को 50-50 बच्चों के घर से उनके मल के नमूने संग्रह करने का आदेश दिया गया था, मंत्री डोटासरा कहा कि वह आदेश केवल अभिभावकों से समझाइश का था। जोशी ने कहा कि राजनीति नहीं होनी चाहिए और सामान्य हितों की बातों पर काम होना चाहिए। कला पर बोलते हुए जोशी ने कहा कि कालबेलिया नृत्य, तेरह ताल आदि को उभार कर जिला केन्द्र पर ऐसे प्रशिक्षण केन्द्र खोले।

झाड़ोल में स्कूल भवन गिर सकते : खराड़ी
चर्चा में भाग लेते हुए झाड़ोल विधायक बाबूलाल खराड़ी ने कहा कि झाड़ोल पिछड़ा हुआ क्षेत्र है, वहां स्कूलों में शिक्षक नहीं है, वहां का बच्चा डॉक्टर, इंजीनियर बनना चाहता है लेकिन विषय नहीं है, उन्होंने कहा कि झाड़ोल में विषय विशेषज्ञों के रिक्त पदों को सरकार भरे। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में गुजरात से लगते हुए पंचायत के स्कूलों में पुराने भवन है, उन पर पट्टियां लगी है, कभी भी भवन गिर सकते है।

घासा-पलाना में रोडवेज बसों का संचालन नहीं

मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने विधानसभा क्षेत्र में परिवहन निगम की बसों के संचालन को लेकर सवाल किया। जवाब में सरकार ने कहा कि मावली की प्रमुख पंचायतें घासा, पलाना, खेमली, भानसोल, जावड़, थामला, सिन्दु, जेवाणा, खरताणा, खेमपुर मार्गों पर निगम की ओर से वर्तमान में वाहनों का संचालन नहीं किया जा रहा है। सरकार ने कहा कि बस सेवा से जोडऩे वित्तीय संसाधनों के आधार पर लिया जाएगा।

11 विश्वविद्यालयों में कुलपति नहीं : किरण
विधायक किरण माहेश्वरी KIRAN MAHESHWARI ने चर्चा में बोलते हुए कहा कि प्रदेश में 26 स्टेट विश्वविद्यालय है और उनमें से 11 विवि ऐसे है जिनके पास स्थायी कुलपति नहीं है। किरण ने कहा कि एक तरफ तो सरकार कह रही है कि अच्छी शिक्षा देना चाहते है और दूसरी तरफ विवि में कुलपति नहीं होगा, उस विवि के क्या हाल हो रहे होंगे, किरण ने उदयपुर की एमपीयूएटी सहित 11 ही विवि के नाम सदन में रखे।
....
माननीयों के सवाल
- झाड़ोल विधायक बाबूलाल खराड़ी ने झाड़ोल क्षेत्र में संचालित ग्रामीण बस सेवाओं को लेकर सवाल किया। खराड़ी के एक अन्य सवाल वर्षा जल एकत्रीकरण के लिए एनीकटों के निर्माण पर था, सरकार ने कहा कि वन क्षेत्र में वर्षा जल रोकने के लिए 65 एनिकटों का निर्माण किया गया।
- धरियावद विधायक गौतमलाल ने लसाडिय़ा में नवनिर्मित आईटीआई भवन की वर्तमान स्थिति पर सवाल किया तो सरकार ने बताया कि वहां भवन का ढांचा पूर्ण हो गया है एवं फिनिशिंग कार्य चल रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned