डुबो गए जिंदगी पानी में और अपनों को गम में, दो दिन में पांच लोगों की जिंदगी का थमा सफर

तीन जनों ने की खुदकुशी, युवक व प्रौढ़ ने पानी में कूदकर व महिला ने पंखे से लटककर दी जान

By: madhulika singh

Updated: 18 Feb 2020, 02:21 PM IST

उदयपुर. जिले में दो दिन में पांच लोगों की जिंदगी का सफर अधूरा रह गया। दो लोगों ने पानी में कूदकर खुद की जान ली तो एक महिला ने पंखे से लटककर जान दे दी। एक अन्य युवा संदिग्ध हालात में ट्रेन की पटरी के समीप मृत पाया गया, वहीं दूसरी ओर एक अन्य बिहारी मजदूर भी अपने ही कमरे में संदिग्ध परिस्थिति में मृत मिला।

दोस्त को फोन कर कहा, मैं आत्महत्या कर रहा हूं

उदयपुर. प्रतापनगर थाना क्षेत्र के लकड़वास निवासी 25 वर्षीय गोपाल पुत्र गंगाराम डांगी ने सोमवार सुबह उदयसागर में कूदकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया कि उसने उदयसागर में कूदने से पहले किसी दोस्त को फोन कर आत्महत्या करने की जानकारी दी थी। दोस्त की सूचना पर परिजन उदयपुर पहुंचे, इससे पहले ही वह उदयसागर चला गया। हेड कांस्टेबल गोविन्द सिंह ने बताया कि सुबह करीब 7.30 बजे गोपाल घर से निकला था। वह करीब साढ़े दस बजे उदयसागर पहुंचा। वहां से किसी दोस्त को फोन पर कहा कि वह आत्महत्या कर रहा है। उसने मोटरसाइकिल किनारे खड़ी की और उदयसागर में कूद गया। समीप के स्कूली बच्चों ने आस-पास मौजूद लोगों को घटना की जानकारी दी। कई घंटों की मशक्कत के बाद गोताखोर छोटूभाई, हुसैन, नूरभाई और जुम्मा खान ने शव निकाला। एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने बताया कि युवक लकड़वास गणेश घाटी में रहता था। यहां कोई प्राइवेट काम करता था।
.......................................

पानी में कूदने से पहले फोन पर भाई से कहा, बच्चों का ध्यान रखना

उदयपुर. मीरानगर निवासी गिरधारीलाल (50) ने सोमवार को पिछोला में कूदकर जान दे दी। कूदने से पहले गिरधारी ने अपने भाई जीवनलाल को फोन कर कहा कि उसके बच्चों का ध्यान रखना। घंटाघर थाने में सूचना पर अनुसंधान के लिए पहुंचे हैडकांस्टेबल हरिशचन्द्र ने बताया कि गिराधारी लाल अपने पिता सुन्दरदास की दुकान पर काम करता था। वह दोपहर करीब सवा एक बजे खाना खाने के बाद दुकान से कहकर निकला था कि थोड़ी देर में लौट आएगा। इसके बाद गिरधारी पिछोला क्षेत्र स्थित नई पुलिया के समीप पहुंचा, वहां चाबी लगी स्कूटी छोड़ पानी में कूद गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने तत्काल पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने गोताखोर बुलवाकर शव निकलवाया। शव महाराणा भूपाल अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। मंगलवार को पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

भाई को शक हुआ: ऐसा क्यों कहा

जब गिरधारी ने भाई जीवन को बच्चों को संभालने की बात कही, तो उसे शक हुआ कि वह ऐसा क्यों कह रहा है। इसके बाद जीवन ने तत्काल इसकी सूचना परिजनों को दी।

पंखे से लटककर विवाहिता ने दी जान

उदयपुर. सवीना के सत्यदेव नगर निवासी जमह्वा बाई (43)पत्नी शांतिलाल सालवी ने सोमवार दोपहर घर में पंखे से लटककर ईह लीला समाप्त कर ली। अनुसंधान अधिकारी एएसआई खेमेन्द्रसिंह ने बताया कि घटना के समय पति घर से बाहर था। घर पहुंचने के बाद पुलिस को सूचना दी। सवीना थानाधिकारी संजीव स्वामी ने बताया कि प्रारंभक जांच में विवाह के कई वर्ष बाद भी संतान नहीं होने से खुदकुशी करना सामने आया। पुलिस ने मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है।

घर से तैयार होकर निकला था युवक, फिर नहीं लौटा

उदयपुर. देबारी टनल के समीप ट्रेन की पटरी के पास रविवार दोपहर युवक का शव मिला। प्रतापनगर थाने के सब इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह ने बताया कि पाली जिले के मोखमपुरा राणी क्षेत्र निवासी राजवीर (21) अपने भाई से जल्द लौटने की कहकर घर निकला था। युवक का जबड़ा ट्रेन से कट गया। उसके पास बैग था और मोबाइल भी पटरी के पास शव के पास मिला। रेलवे गार्ड की शव पर नजर पड़ी। उसने उसके मोबाइल से ही उसके भाई को सूचना दी। भाई व पुलिस वहां पहुंचे। युवक के वहां पहुंचने के कारण का पता नहीं चल पाया। युवक रिलायंस में कार्यरत था। उसका भाई बंशीलाल मादड़ी में किसी फैक्ट्री में काम करता है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned