script57 पंचायतों में कई हेण्डपंप खराब, गहरा रहा पेयजल संकट | Many hand pumps are out of order in 57 panchayats, drinking water crisis deepens | Patrika News
उदयपुर

57 पंचायतों में कई हेण्डपंप खराब, गहरा रहा पेयजल संकट

ग्रामीणों के पास पेयजल का मात्र हेण्डपंप ही सहारा है। मगर मात्र 10 हेण्डपंप मिस्त्री होने से सभी पंचायतों में मरमत कार्य करना संभव नहीं हो पा रहा है।

उदयपुरJun 16, 2024 / 05:15 pm

Santosh Trivedi

hand pump rajasthan
उदयपुर/नयागांव। पंचायतीराज विभाग द्वारा पेयजल सुविधा के लिए ग्रामीण इलाकों में लगाए जाने वाले हेण्डपंप कई पंचायतों में खराब पड़े हैं और उन्हें ठीक करने वाले मिस्त्री भी पर्याप्त नहीं है। खेरवाड़ा पंचायत समिति में 32 ग्राम पंचायत है जिसमें केवल चार हेण्डपंप मिस्त्री कार्यरत है। ऐसे ही नयागांव पंचायत समिति में 25 ग्राम पंचायत हैं 6 मिस्त्री कार्यरत है।
दोनों पंचायत समिति में सैकड़ों हेण्डपंप है जिसका भार मात्र 10 मिस्त्रियों पर है। कार्यरत हैडपप मिस्त्री में 2 या 3 सेवानिवृत्त के समीप है। जिससे आने वाले समय में ओर भी हेण्डपप मिस्त्री क़ई कमी खिलने वाली है। ग्रामीणों का कहना की इस भीषण गर्मी में जलस्तर में कमी आ गयी है । जगह-जगह तालाब,डेम,बावड़ी सूख गई है।
ग्रामीणों के पास पेयजल का मात्र हेण्डपंप ही सहारा है मगर दोनों पंचायत समिति में मात्र 10 हेण्डपंप मिस्त्री होने से सभी पंचायतों में मरमत कार्य करना संभव नहीं हो पा रहा है। पंचायत राज विभाग के अधीन हेण्डपंप मिस्त्री चतुर्थ श्रेणी की ग्रेड में शामिल हैं। गर्मियों में हेण्डपंप खराब होने पर 10 मिस्त्रियों को ही भागदौड़ करनी पडती है। मिस्त्रियों की कमी के चलते कई बार हेण्डपंप लबे समय तक ठीक नहीं हो पाते है। इससे ग्रामीणों को भारी परेशानी होती है।
दोनों पंचायत समिति के अंतर्गत आने वाली 57 ग्राम पंचायतों में सैकड़ों हेण्डपंप खराब है। मगर पंचायत में मिस्त्री नही होने से उन्हें दुरस्त नही किया जा रहा है। क़ई जगह देखा जाए तो स्कूलों में लगे हेण्डपंप भी खराब है। बच्चों व पोषाहार बनाने वालों को दूर दूर से पानी लाना पड़ता है।

ये तालाब व बांध हुए खाली

ग्राम पंचायत बरौठी बा्र का बांध,निचला थूरिया का झोपडी तालाब,उपला थूरिया का तालाब,गोहावाडा का दो नदी बांध,भाणदा का कोहलीया तालाब,फूटाला का तालाब,भाणदा में सारूआ तालाब,बायडी माताजी मन्दिर एनिकट,आडीवली के गोविन्ददेव तालाब,कनबई तालाब,बावलवाडा का तालाब,मकोडीया तालाब,छाणी का माताजी मन्दिर एनिकट,नगर तालाब,कातरवास का तालाब,निचला तालाब का तालाब,सुलई की बोडी नदी,सारोली से गुजर रही सोम नदी, छतरी तालाब कनबई,कमला घाटी तालाब डबायचा, होली फला तालाब जायरा, उपला तालाब जुवारवा भोमटावाड़ा सहीत खेड़ा घाटी, बलीचा, गुड़ा, देमत ,झंझरी, मालिफला, पटिया, महुवाल आसपास की कई पंचायत में तालाब सुख गए है।

इनका कहना है…

मिस्त्री के कमी से हेण्डपंप दुरस्त नहीं हो पा रहे है। ग्रामीणो को इस भीषण गर्मी में पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। सरेरा ग्राम पंचायत में लगभग सभी हेण्डपंप खराब है। पूर्व में भी विभाग को अवगत करवाया लेकिन अब तक समाधान नहीं हो पा रहा है।
-राकेश पटेल, वार्डपंच सरेरा

हेण्डपंप मिस्त्री की कमी कहो या विभाग की लेकिन इसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। मिस्त्री नहीं होने से हेण्डपंप बंद पड़े हुए है।

-जयदीप फड़िया, ममता मीणा, भाजपा नेता

Hindi News/ Udaipur / 57 पंचायतों में कई हेण्डपंप खराब, गहरा रहा पेयजल संकट

ट्रेंडिंग वीडियो