एमबी में खुला इमरजेंसी आईसीयू वन...पत्रिका ने इमरजेंसी के हालात पर उठाया था मामला

http://www.patrika.com/rajasthan-news

By: Krishna

Published: 15 Nov 2018, 06:09 PM IST

भुवनेश पंड्या/उदयपुर . महाराणा भूपाल हॉस्पिटल में तत्काल उपचार की जरूरत वाले गंभीर मरीजों के लिए इमरजेंसी आईसीयू वन को खोला गया है। अब तक चल रहे इमरजेंसी मेडिसिन वार्ड को इमरजेंसी-टू नाम से जाना जाएगा। इमरजेंसी आउटडोर के करीब इस कक्ष का तैयार होने के बाद अब तक इस्तेमाल नहीं किया गया था। उल्लेखनीय है कि राजस्थान पत्रिका ने गतदिनों इमरजेंसी वार्ड के हालात पर समाचार प्रकाशित कर स्थिति को उजागर किया था।इमरजेंसी मेडिसिन वार्ड केवल नाम का ही है, जहां जीवनरक्षक दवाओं के नाम पर कुछ नहीं था। मरीजों को तत्काल जरूरत के अन्य वार्डों में ले जाया जाता था। ऐसे में काफी देर हो जाती थी, मरीजों को तत्काल उपचार नहीं मिलने के कारण कई बार श्वास थम जाती थी। अब इमरजेंसी के नए वार्ड को तैयार किया गया है, इसका नाम रखा है इमरजेंसी आईसीयू वन। गंभीर मरीजों के लिए यह किसी वरदान से कम नहीं होगा।

 

ये लगाए मशीन

- वेंटिलेटर तीन- ाधुनिक तकनीक के तीन वेंटिलेटर लगाए गए हैं जिसे जरूरत पर इस्तेमाल किया जा सकेगा।
- मल्टी पेरा मॉनिटर- ये मशीन बीपी, हृदय गति, ऑक्सीजन की मात्रा और इसीजी की जांच कर सकती है। इसमें एक पूरी जांच सामने आ जाती है। श्वास रुकने पर डी फिब्रीलेटर (एईडी मशीन )हृदय गति रुकने पर काम आता है। इसके इस्तेमाल से हृदय गति को सही तरीके से चलाया जाता है।

- क्रेश कार्ट - यह ऐसी गाड़ी रहेगी, जिसमें सभी जीवनरक्षक दवाइयां उपलब्ध रहेंगी।

READ MORE : बलात्कार करने वाले चपरासी को न्यायालय ने सुनाई ये कठोर सजा

 

वार्ड पहले बना हुआ, काम में नहीं लिया जा रहा था। सभी चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ को इन उपकरणों को इसका प्रशिक्षण दिया है, नर्सिंग स्टाफ को भी इसका प्रशिक्षण दिया। इसे इसलिए बेहतर किया गया है ताकि तत्काल बेहतर सुविधा मिल जाएगी। किसी गंभीर मरीज को सबसे पहले इमरजेंसी आईसीयू वन में लाएंगे, इसके कुछ दिन बाद उसे वहां आईसीयू टू में ले जाया जा सकता है, या तय वार्ड में भेज देंगे।

डॉ लाखन पोसवाल, अधीक्षक महाराणा भूपाल हॉस्पिटल उदयपुर

Show More
Krishna Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned