कोरोना की वजह से दुबई में फंंसे प्रवासी घर लौटे , अपनोंं को देख छलक पड़े आंसू

जयपुर में 7 दिनों तक क्वाॅरंंटीन रहने के बाद अब अपने अपने घर लौट आए हैंं जहांं ये 7 दिन तक हाेेम आइसोलेशन में रहेंगे

By: madhulika singh

Updated: 01 Jul 2020, 03:40 PM IST

उमेश मेनार‍िया/मेनार. संयुक्त अरब अमीरात के दुबई , आबूधाबी , रस अल खैमाह , शारजाह में कोरोना के कारण लम्बे अरसे से फंसे प्रवासी जयपुर में 7 दिनों तक क्वाॅरंंटीन रहने के बाद अब अपने अपने घर लौट आए हैंं जहांं ये 7 दिन तक हाेेम आइसोलेशन में रहेंगे । ये सभी 170 प्रवासी 20 जून को दुबई स्पाइसजेट की स्पेशल चार्टर प्लेन बुक कर लौटे थे जिनको नियमों के तहत 7 दिन के लिए जयपुर में ही क्वाॅरंटीन किया गया था । क्वाॅरंटीन अवधि पूरा होने के बाद इन्हें अब घर भेज दिया है जहांं इन्हें 7 दिन तक हाेेम आइसोलेशन में रहना होगा। क्वाॅरंटीन सेंटर पर ही सभी 170 प्रवासियों की कोरोना जांच की गई जिसमेंं 169 प्रवासियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। उदयपुर संभाग के सभी प्रवासी 4 बसों द्वारा जयपुर से उदयपुर पहुंंचे। इनमेंं सबसे अधिक प्रवासी मेनार गांंव के 58 लोग हैंं। इसके अलावा रुंडेड़ा से 10, ईंटाली से 4, करजली 5, नपानिया 4,बाठरड़ा खुर्द 4, बांसड़ा 2, खेरोदा 2, मनोहरपुरा 1, गवारड़ी 6, मेनपुरिया 1 सहित वल्लभनगर क्षेत्र आदि गांवोंं के प्रवासी शामिल थे । प्रवासियों के घर लौटने के दौरान नारायणपुरा टॉल प्लाजा के यहां चितौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी ने प्रवासियों से मुलाकात की। प्रवासी नरेंद्र दोलावत एवंं मोहन जोशी ने बताया कि हम सभी का अल रस खैमाह एयरपोर्ट के बाद जयपुर एयरपोर्ट पर वापस जांच हुई , हम सब की रिपोर्ट नेगेटिव आई । कमलेश कमावत ने कहा कि हम प्रवासियों की बस सबसे पहले हॉस्पिटल पहुंंची जहांं स्क्रीनिंग की गई इसके बाद ही वे अपने घर लौटे। इस दौरान डॉ. राहुल आमेटा , निगरानी दल के चंद्रशेखर मेनारिया, देवीलाल ठाकरोत, पंचायत सहायक रमेश जोशी सहित चिकित्सा टीम मौजूद रही ।

गांंव लौटते ही अपनो को देख छलक पड़े आंसू

दुबई से लौटे ये प्रवासी लम्बे समय से विदेश में कार्य करते हैंं। लेकिन कोरोना की वजह से ये पहला मौका था जब सभी लोगोंं को एक साथ मजबूरी में तय समय से पहले देश लौटना पढ़ा। जैसे ही अल सुबह बसे मेनार पहुंंची तो अपने परिवारजनों के संग देखकर खुशी के आंसू छलक पड़े क्योंकि ये प्रवासी पिछले मार्च महीने से अपने परिवार वालों से फाेन पर बात कर सलामती की खबर देते थे, अब जब ये घर लौट आए तो खुशी का ठिकाना नहीेे रहा । परिवारजनों को देख खुशी के आंसू छलक पड़े।

पत्रिका ने उठाया था प्रवासियों के वतन लौटने का मामला

कोरोना संक्रमण के कारण दुबई , आबूधाबी , शारजाह में फंंसे प्रवासी भारतीयों की नाैकरियां छूट जाने के बाद उनका बिना नाैकरी के महीने का 30 हजार खर्च कर दिन गुजारना मुश्किल हो रहा था मामले को लेकर पत्रिका ने खाड़ी देशोंं में प्रवासियों के हालात पर खबर का प्रकाशन किया। इसके बाद सांसद और विधायक द्वारा मुख्यमंत्री से लेकर विदेश मंत्रालय पत्र लिखे गए। वहींं मेवाड़ सेवा समिति के अध्यक्ष शंकर लाल गुर्जर ने दुबई में भारत के महावाणिज्य दूत विपुल से मुलाकात कर बातचीत की और समन्वय स्थापित कर इनको भारत लाने के प्रयास कर स्पेशल चार्टर प्लेन बुक की इसके बाद ये सभी वतन लौटे।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned