आरएसएस : दक्षिणी राजस्थान में मिशनरी शक्तियां गलत प्रचार कर बोल रही कि भील हिंदू नहीं है!

विहिप के राष्ट्रीय महामंत्री उदयपुर में बोले

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 07 Mar 2020, 11:58 AM IST

उदयपुर. विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के राष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने कहा कि दक्षिणी राजस्थान में कुछ शक्तियों हिंदू धर्म को लेकर दुष्प्रचार कर रही है जो गलत है। बांसवाड़ा सहित आदि जिलों में मिशनरी शक्तियां भील हिंदू नहीं है यह कहते हुए दुष्प्रचार कर रही है जिस पर कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। शुक्रवार को यहां पंचवटी स्थित आलोक स्कूल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए परांडे ने कहा कि जहां राणा पूंजा, गोविंद गुरु जैसे लोगों ने हिंदू धर्म की रक्षा के लिए इतना बड़ा प्रयास किया है, वहां पर इस प्रकार का प्रचार करना समाज को तोडऩे का कार्य है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि देश में लव जेहाद की घटनाएं रोकना, गौ हत्या रोकना तथा हिंदू समाज को तोडऩे का प्रयास करने वाली शक्तियों को रोकना विहिप का प्रमुख एजेंडा है। उन्होंने खाटू श्यामजी के मेले में सेवा करने वाले हिन्दू संस्थाओं द्वारा चलाए सेवा पंडालों का शुल्क इस 2100 से बढ़ाकर 21 हजार रुपए करने का भी विरोध किया। राममंदिर के सवाल पर बोले कि ट्रस्ट चाहता है कि अयोध्या में सरकारी धन से मंदिर नहीं बने, मंदिर समाज के पैसे से बने। सीएए को लेकर बोले कि इसके नाम पर देश व समाज में कुछ लोग बहकाने का काम कर रहे है। इस अवसर पर विहिप के चित्तौड़ प्रान्त के अध्यक्ष फतहचन्द सामसुखा, क्षेत्रीय मंत्री सुरेश, उपाध्याय, प्रान्त मंत्री कौशल गौर, प्रान्त ट्रस्टी प्रदीप कुमावत, क्षेत्रीय संगठन मंत्री गोपाल आदि उपस्थित थे।

Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned