11 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित को उम्रकैद

11 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित को न्यायालय ने कड़ी टिप्पणी करते हुए आजीवन कारावास व 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा

Mohammed Iliyas

January, 1001:23 AM

उदयपुर . ओगणा थाना क्षेत्र में पौने चार वर्ष पूर्व 11 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित को न्यायालय ने कड़ी टिप्पणी करते हुए आजीवन कारावास व 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। पीडि़ता के पिता ने 9 अप्रेल 2014 को ओगणा थाने में जेलाई कला निवासी जवानसिंह पुत्र रतनसिंह राजपूत के विरुद्ध उसकी नाबालिग पुत्री से दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया था।

 

READ MORE : गृहमंत्री कटारिया ने यूआईटी में ली समीक्षा बैठक, आयड़ नदी के विकास को लेकर लिया ये बड़ा निर्णय

 

मामले में सुनवाई के दौरान लोक अभियोजक धनसिंह झाला ने आवश्यक साक्ष्य व दस्तावेज पेश किए। बचाव पक्ष ने पीडि़तों के बयानों में विरोधाभास सहित कई तर्क दिए। दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद आरोप सिद्ध होने पर विशिष्ट न्यायाधीश (लैगिंक अपराधों से बालकों को संरक्षण अधिनियम 2012) के पीठासीन अधिकारी ने विरेन्द्र कुमार जसूजा ने घटना पर कड़ी टिप्पणी करते हुए लिखा कि ऐसे घिनौने कृत्य का सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं है। वर्तमान समय में समाज में इस प्रकार के बढ़ते हुए घृणित अपराधों पर अंकुश लगाना नितांत आवश्यक हो गया है। ऐसे में अभियुक्त के प्रति सजा में नरमी का रूख अपनाया जाना न्याय संगत प्रतीत नहीं होता है। दोषसिद्ध होने पर न्यायालय ने अभियुक्त को आजीवन कारावास की सजा सुनार्ई

 

यह था मामला
पीडि़ता के पिता ने रिपोर्ट में बताया कि चौथी कक्षा में पढऩे वाली उसकी पुत्री एक माह पूर्व खेत पर थी, तब जवानसिंह उसे जबरन उठा ले गया। हल्ला किया तो उसने पुत्री का मुंह दबा दिया और बाद में उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोपित ने घटनास्थल पर ही पुत्री को 100 रुपए का नोट भी दिया जिसे उसने मौके पर ही फाड़ दिया। घर आकर पुत्री ने किसी को नहीं बताया।
कुछ दिन उदास रहने पर उसे ननिहाल भेज दिया। एक माह के बाद जब लौटी तो उसने पूरा घटनाक्रम बताया।

 

तनाव में 12वीं के छात्र ने की खुदकुशी
उदयपुर. मानसिक तनाव के चलते 12वीं कक्षा के छात्र ने घर पर ही साड़ी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने बताया कि छबिला भैरू घंटाघर निवासी विशाल (18) पुत्र राजेन्द्र कुमार जैन ने घर पर फांसी लगा ली। उस समय मां-पिता मकान के नीचे ही दुकान पर थे। दोपहर एक बजे ऊपर आए तब विशाल का कमरा बंद था, आवाज लगाने पर कोई जवाब नहीं मिला। परिजन दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे तो विशाल फंदे पर लटका हुआ था। परिजनों ने शव को नीचे उतारा, वे उसे एमबी चिकित्सालय लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। घंटाघर थाना पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों के सुपुर्द किया।

Show More
Mohammed illiyas
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned