उदयपुर में आधा भादो बीतने पर लगी सावन सी झड़ी, कई इलाकों में भरा पानी

मानसून की पहली मूसलाधार, कोटड़ा में 2, उदयसागर में सवा, झाड़ोल, नाई, बागोलिया में 1-1 इंच बरसात, मौसम विभाग का अलर्ट: संभाग में तीन दिन जारी रहेगा बारिश का दौर

By: madhulika singh

Published: 10 Sep 2021, 04:35 PM IST

उदयपुर. मानसून आने के बाद से सभी मूसलाधार बारिश की राह देख रहे थे, लेकिन अब तक केवल खंड वर्षा ही हो रही थी। आखिरकार गुरुवार को इस सीजन की पहली मूसलाधार बरसात देखकर सभी खुश हो गए। एक दिन पहले बुधवार को भी जिले में अच्छी बारिश से झीलों में पानी की आवक शुरू हुई। इधर, ग्रामीण क्षेत्रों में भी इंद्र देव मेहरबान रहे। सुबह से ही शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में मूसलाधार बरसात हुई। गुरुवार दिनभर की बरसात से शहर के सवीना मंडी, सेक्टर 14 सहित कई इलाकों में पानी भर गया, जिससे लोगों को असुविधा हुई।

तीन दिन बारिश की संभावना

मौसम विभाग जयपुर ने बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इसके तहत 10 से 12 सितंबर तक उदयपुर समेत बांसवाड़ा, डूंगरपुर, चित्तौड़, राजसमंद में बारिश की संभावना है। मौसम विज्ञानी प्रो. नरपतसिंह राठौड़ के अनुसार, पिछले सप्ताह बंगाल की खाड़ी में बने अवदाब का असर उदयपुर सहित मेवाड़-वागड़ में हो रहा है, जिससे पिछले तीन दिनों से कहीं तेज, कहीं हल्की तो कहीं खंड बरसात हो रही है। पूरे सप्ताह ऐसा ही मौसम रहेगा। उदयपुर-मेवाड़ इस बार मानसून असामान्य है, जिसके प्रमुख कारण अरब सागरीय मानसूनी का कोंकण तट से आगे नहीं बढऩा तथा बंगाल की खाड़ी के मानसून का उतर-पश्चिमी दिशा में तीव्रता से आगे नहीं बढऩा है, जिससे उदयपुर-मेवाड़ में अभी तक सामान्य से 35 प्रतिशत वर्षा कम हुई है। लेकिन, मेवाड़ में सितंबर के अन्तिम सप्ताह तक बरसात होती है। अत: सितंबर तक सामान्य वर्षा होने के आसार है।

सांडोल माता एनिकट पर आधा फीट चादर
झाड़ोल उपखंड क्षेत्र में गुरुवार सुबह 10 बजे से बारिश का दौर शुरू हुआ। तेज बारिश के कारण सडक़ों पर जलभराव की स्थिति हो गई। वहीं, सांडोल माता एनिकट छलक गया और आधा फीट चादर चली। वहीं, झल्लारा, जयसमंद, कोटड़ा, खेरोदा, भटेवर आदि जगहों पर भी मेघ गर्जना के साथ तेज बारिश का दौर रहा।
गुरुवार शाम तक कहां कितनी बरसात

कोटड़ा - 53 मिमी
उदयसागर - 33 मिमी

झाड़ोल - 29 मिमी
बागोलिया - 25 मिमी

नाई - 25 मिमी
मदार - 22 मिमी

ओगणा - 19 मिमी
पिछोला - 16 मिमी

अलसीगढ़ - 14 मिमी
वल्लभनगर - 10 मिमी

गोगुन्दा - 4 मिमी

कहां कितना पानी
पिछोला - 8.2 फीट (एक इंच बढ़ा)

आकोदड़ा - 3.60 मीटर (आधा मीटर बढ़ा)
झाड़ोल डेम - 5.48 मीटर

ओगणा - 2.74 मीटर
कंथारिया डेम - 3.04 मीटर (खाली था)

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned