मां देगी शिशु को नव जीवन का वरदान, जन्म के साथ कोरोना का अभिशाप नहीं

- प्लेसेंटा (नाल) से जुडे शिशु को पॉजिटिव मां से नहीं होगा कोरोना संक्रमण

- फोग्सी ने जारी की है गाइड लाइन

By: bhuvanesh pandya

Updated: 08 Apr 2020, 02:42 PM IST

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. यदि मां कोरोना संक्रमित यानी पॉजिटिव हैं तो भी उसके गर्भ में पल रहा शिशु कोरोना से ग्रस्त नहीं होगा। यानी मां से प्लेसेंटा (नाल) से जुड़ा शिशु कोरोना के घेरे में नहीं आएगा। जन्म तक वह मां के गर्भ में पूरी तरह से सुरक्षित है। उसे मां नए जीवन का वरदान देगी कोरोना रूपी बीमार का अभिशाप नहीं।

----

वर्टिकल ट्रांसमिशन: मेडिकल की भाषा में इसे वर्टिकल ट्रांसमिशन कहा जाता है। यदि मां में कोई बीमारी है तो वह शिशु में स्वत: ही चली जाएगी। इसमें वायरल इन्फेक्शन, सिफिलिस, चिकन पोक्स, टोक्सो प्लाज्मा, रूबेला, हरपिज, सीएमवी व सुरक्षित प्रसव नहीं होने पर एचआईवी जैसी बीमारियां भी वर्टिकल ट्रांसमिशन के जरिए मां से शिशु में ट्रांसफर होती है, हालांकि कोरोना में वर्टिकल ट्रांसमिशन नहीं है। - शिशु जब तक मां के गर्भ में है तब तक संक्रमित मां होने के बाद भी वह संक्रमण से सुरक्षित है। लेकिन जब वह जन्म लेता है और नवजात होता है तो उसे संभालने के लिए परिजन को ही अपने पास रखना होता है। यदि परिजन साथ नहीं है तो मां से लगातार संपर्क में आने से शिशु संक्रमित हो सकता है। इसके लिए प्रसूता को भी नियमित मास्क पहनना होगा, लगातार हाथ धोने सहित अन्य दूरी बनाए रखने के नियमों का पालन करना होगा। लाक्षणिक या पॉजिटिव में जो दवा का कोर्स दिया जाता है उसे समय पर लेना होगा।

------

फोग्सी ने जारी की है गाइडलाइन...फोग्सी यानी दी फेडरेशन ऑफ ऑब्सट्रेटिक एण्ड गायनोलॉजिकल सोसायटी आफ इंडिया ने इसे लेकर गाइड लाइन जारी की है। उन्होंने चिकित्सकों को भी स्पष्ट किया है कि यदि कोई गर्भवती संक्रमित है तो प्रसव के दौरान जो-जो स्टाफकर्मी व चिकित्सक लेबर रूम में हैं उन्हें पीपीई किट पहनना होगा और नवजात को भी जन्म के बाद मां से दूरी पर रखना होगा।

-----

फोग्सी की गाइडलाइन के अनुसार कोरोना संक्रमित मां के गर्भ में बच्चा पूरी तरह से सुरक्षित है, उसे किसी भी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। जन्म लेने के बाद शिशु के साथ मां की दूरी जरूरी है ताकि बच्चा बेहतर रहे।

डॉ मधुबाला चौहान, अधीक्षक जनाना हॉस्पिटल व वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ आरएनटी मेडिकल कॉलेज उदयपुर

bhuvanesh pandya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned