जोधपुर के दो तस्करों ने गाड़ी में साथी की गर्दन तोड़ की हत्या, बाद में ढाबे पर खाना खाया तो हावभाव से आए शक के घेरे में

जोधपुर के दो तस्करों ने गाड़ी में साथी की गर्दन तोड़ की हत्या,  बाद में ढाबे पर खाना खाया तो हावभाव से आए शक के घेरे में

Madhulika Singh | Updated: 26 Jul 2019, 12:43:13 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

- डबोक Dabok में एक ढाबे पर रुकने के दौरान हुआ खुलासा, पुलिस Udaipur Police ने दोनों आरोपी को पकड़ा

उदयपुर . पैसों की लेन-देन को लेकर जोधपुर Jodhpur के दो तस्करों ने चित्तौडगढ़़ Chittorgarh के एक साथी तस्कर की गाड़ी में मारपीट कर गर्दन की हड्डी तोड़ हत्या कर दी। हत्या के बाद तस्कर डबोक Dabok में एक ढाबे पर खाना खाने रुके, जहां कर्मचारी को बिना नम्बरी गाड़ी व आरोपियों के हाव-भाव देख शक हुआ। उसने तुरंत पुलिस udaipur Police को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपी वहां से भाग छूटे। पुलिस ने घेराबंदी का दोनों आरोपियों को धरदबोचा।

पुलिस ने चित्तौडगढ़़ सदर थाना क्षेत्र के देवर निवासी मृतक भैरूलाल पुत्र मांगीलाल के पुत्र कन्हैयालाल की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया। पुलिस ने धवा झंवर जोधपुर निवासी श्यामलाल पुत्र गंगाराम विश्नोई व देवाराम पुत्र सार्दुलराम विश्नोई को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया। पुलिस अभी आरोपियों से पूछताछ में जुटी है। परिवादी कन्हैयालाल ने बताया कि उसके पिता भैरूलाल 2-3 माह से कभी- कभार ही घर आ रहे थे। पुलिस ने अपराह्न पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों के सुपुर्द किया।


लेन-देन को लेकर था विवाद

पुलिस ने बताया कि आरोपियों व मृतक डोडा-चूरा की तस्करी में लिप्त हैं। आरोपियों ने पैसे देने के बावजूद माल नहीं मिलने पर रात को भैरूलाल को छोटीसादड़ी क्षेत्र से अपने साथ लिया था। रास्ते में लेनदेन को लेकर विवाद हुआ। धरियावद के आसपास आरोपियों में से एक ने अपने बाजूओं से कसकर भैरूलाल की गर्दन को दबाया जिससे गर्दन की हड्डी टूटने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। आरोपी उसे गाड़ी की सीट पर डालकर इधर-उधर घूमाते रहे। देर रात वे डबोक में कुवारिया माइंस पर एक ढाबे पर रुके, जहां पर आरोपियों के हुलिये व बिना नम्बरी गाड़ी देखकर कर्मचारी को शक हो गया। उसने पुलिस को सूचना दे दी। इस बीच, रात्रि गश्त में ढाबे के आसपास ही मौजूद हेड कांस्टेबल लालसिंह मय जाप्ते मौके पर पहुंच गया। पुलिस के पहुंचते ही आरोपी वहां से भाग छूटे। पुलिस ने पीछा कर एक आरोपी को पकड़ लिया। गाड़ी की तलाशी ली तो उसमें भैरूलाल का शव मिला। रात को ही पुलिस ने घेराबंदी कर दूसरे आरोपी को भी धरदबोचा।
--

हर टोल प्लाजे पर गाड़ी के अलग-अलग नम्बर

आरोपियों ने गाड़ी आगे व पीछे की नम्बर प्लेट खोलकर गाड़ी में पटक रखी थी। वे रास्ते में पडऩे वाले हर टोल नाके पर गाड़ी के नम्बर अलग-अलग लिखवाकर आगे बढ़ते रहे। सूचना पर एफएसएल प्रभारी अभयप्रताप सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। गाड़ी की तलाशी में उन्हें नम्बर प्लेट व कई सारी टोल की पर्चियां मिली। हर पर्ची पर उन्होंने गाड़ी के अलग-अलग नम्बर लिखवा रखे थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned