प्रदेश में नहीं खुल पाई नंदीशालाएं, आवारा पशुओं का संकट बरकरार

- आवारा पशुओं से निजात पाने के लिए होनी थी नई शुरुआत

By: bhuvanesh pandya

Published: 01 Dec 2020, 07:46 AM IST

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. आए दिन सड़कों पर घूमने वाले पशुओं की समस्या हर शहर-गांव के लिए आम हो चुकी है। प्रदेश में सरकार निजी गोशालाओं को बजट जारी कर रही है। लेकिन इन पशुओं की समस्याओं से निजात नहीं मिल रही। आए दिन आवारा पशुओं की चपेट मे आने से दुर्घटनाएं भी होती रहती है। इस समस्या को दूर करने के लिए प्रत्येक पंचायत समितियों में नंदीशालाएं खोली जानी थीं, जो अब तक कहीं नहीं खुल पाई है।
----

सरकार ने की थी घोषणा
. सरकार द्वारा प्रस्तुत परिवर्तित बजट 2019 में सड़कों पर घूमते पशुओं की समस्या से निजात पाने के लिए प्रत्येक पंचायत समिति पर नन्दीशालाएं स्थापित करने की घोषणा की गई थी। प्रत्येक जिले में एक नंदी गोशाला को गो संरक्षण एवं संवद्र्धन निधि से अनुदान देने की घोषणा की गई थी।

----
- सरकार ने गोशालाओं को अधिक सम्बल प्रदान करने के लिए अनुदान राशि छोटे व बड़े पशुओं के लिए क्रमश: 16 व 32 रुपए से बढ़ाकर 20 व 40 रुपए की। पात्र गोशालाओं में संधारित बड़े गोवंश के लिए 40 रुपए तथा छोटे गोवंश के लिए 20 रुपए प्रतिदिन की दर से अधिकतम 180 दिवस की सहायता राशि देने का प्रावधान है।

- सड़कों पर घूमते पशुओं को शहरी क्षेत्र में राजस्थान नगर पालिका अधिनियम 2009 की धारा 247/248 में और ग्रामीण क्षेत्र में पंचायतीराज नियम, 1996 के नियम 115 से 131 के प्रावधानों के अनुसार पशुधन को तय प्रक्रिया से पकड़ कर कांजी हाउस में रखने का प्रावधान है।
- वर्तमान में प्रदेश में कुल 2788 पंजीकृत गोशालाएं हैं।

----

इन जिलों में गोशाला निर्माण के लिए राशि जारी
नंदी गोशाला जन सहभागिता योजनान्तर्गत गो संरक्षण एवं संवद्र्धन निधि नियम 2016 द्वारा सृजित निधि से कुल 7 जिलों हनुमानगढ, बाड़मेर, दौसा, करौली, पाली, भरतपुर एवं झुंझुनंू जिले में नंदी गोशालाओं के निर्माण के लिए राशि जारी की गई है।

----
वित्तीय वर्ष 2019.20 में वित्त विभाग राजस्थान सरकार द्वारा निदेशालय गोपालन को आवंटित बजट एवं व्यय

क्रम संख्या. कार्य- बजट आवंटन- व्यय
1- गोशालाओं को अनुदान- 47200.00- 45854.00

2- गोशालाओं नंदी गोशालाओं में आधारभूत परिसम्पत्तियों के निर्माण-1696.45. 00
3- आरक्षित कोष- 1850.00- 1067.39

-----
उदयपुर जिले में 18 गोशालाएं हैं

श्री पशुपति कल्याण गोशाला बलीचा नेशनल हाईवे 8
श्री नागेश्वर पाŸवनाथ गोशाला बांसड़ा भीण्डर

महावीर जैन गौशाला संस्थान उमरणा सायरा
श्री कृष्ण महावीर गोरक्षा समिति फ तहनगर मावली

श्री शिव शंकर गोशाला पाराखेत उमरड़ा
गो सेवा समितिए सार्वजनिक गोशाला अशोक नगर

श्री आदिनाथ पशु रक्षा संस्थान कानोड़ तहसील वल्लभनगर
ईडाणा माताजी गो सेवा समिति ईडाणा सलूम्बर

श्री बोहरा गणेश मंदिर गोशाला उदयपुर
श्री कृष्ण महावीर गो सेवा संस्थान मावली

जैवन्ति प्रताप सेवा संस्थान द्वारा संचालित मूलेश्वर महादेव गोशाला सिपुर
श्री गोकुल गोशालाए पानेरियों की मादडी हॉल विजनवास मावली

श्री पाŸवनाथ गोशाला ट्रस्ट कदमाल
नगर निगम द्वारा संचालित काईन हाउस तितरड़ी

श्री मांगबाई मनोहरलाल सरूपरिया गोशाला सुरों का फ ला
विश्वेश्वर गोशाला गोगुन्दा

ग्वालेश्वर गोशाला समितिए सेरिया
श्री बालासर गोशाला समिति धोलगिर खेड़ा सलूम्बर

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned