अब गांव की महिलाएं घर-घर जाकर बच्चों को देगी शिक्षा

woकाकराडूंगरा गांव की पहल

By: surendra rao

Updated: 07 Apr 2021, 06:21 PM IST

नयागांव. (उदयपुर). पंचायत समिति नयागांव के काकराडूंगरा ग्रामवासियों ने अनोखी पहल करते हुए छोटे बच्चों को गांवस्तर पर ही पढ़ाने का निर्णय लिया। राज्य सरकार के आदेशनुसार कक्षा पहली से पांचवीं तक के बच्चों को अगली कक्षा में प्रमोट करने है, जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों की पढ़ाई बहुत ही प्रभावित हो रही है।
कैलाश बरण्डा ने बताया कि आदिवासी ग्रामीण क्षेत्र छोटे-छोटे बच्चों की नींव ही कमजोर रहेगी तो वो आगे कैसे बढ़ पाएंगे। लगातार दो साल से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इसको देखते हुए गांव कि चार महिलाओं ने जिम्मेदारी ली है कि वह प्रतिदिन बच्चों को घर-घर जाकर बच्चों को पढ़ाएंगे। सरकार द्वारा कोरोना गाइड लाइन का पालन करने हुए बच्चों को शिक्षा देंगी। गांव के वार्ड पंच पूंजी देवी ने बच्चों के लिए मास्क व सेनेटाइज देने कि जिम्मेदारी ली।
जिसमें रमेश, अरविंद, लालजी, लक्ष्मण, आवेश, भुरालाल, अर्जुन, पवन,संजय, शैलेश, लीला देवी, कान्ता देवी, आशा देवी आदि उपस्थित रहे।

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned