पुलिस को आमलेट नहीं खिलाने की गुस्ताखी ने पहुंचाया हवालात, गृहमंत्री कटारिया से इंसाफ की गुहार

भोजनालय संचालक ने लगाए आरोप, कांग्रेस नेता और पुलिसकर्मी की ऑडियो रिकॉर्डिंग वायरल

पुलिस को आमलेट नहीं खिलाने की गुस्ताखी हवालात पहुंचा देगी यह तो उसने सपने में भी नहीं सोचा होगा। जावर माइंस पुलिस ने भी इस कदर खुन्नस निकाली की शराब रखने के आरोप में पालोदड़ा स्थित किराए की दुकान से उठाकर चांद घाटी रोड से गिरफ्तारी दिखा दी। यह पीड़ा है पालोदड़ा निवासी राजेंद्र कुमार सुहालका की। उसने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर इंसाफ की गुहार लगाई है। 


आर्थिक तंगी से बचने के लिए चुराने लगे बाइक, बाइक चोरों ने कबूल की 12 वारदातें


वहीं गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया से भी शिकायत की है। यह मामला वाट्स एप पर वायरल हुई ऑडियो से भी और गर्मा गया है। ऑडियो में हेड कांस्टेबल सूर्यसिंह व पूर्व जिला परिषद सदस्य ख्यालीलाल सुहालका इसी मसले को लेकर बातचीत कर रहे हैं। 



बातचीत में गिरफ्तार करने वाला हेड कांस्टेबल खुद बोल रहा है कि कार्रवाई के समय वह मौके पर नहीं था। इधर, पुलिस ने बताया कि आरोपित दुकान में शराब  रखकर बेचता रहा है। झूठी शिकायतें कर वह जांच एवं कार्रवाई को गुमराह कर रहा है। हालांकि पुलिस अधीक्षक ने मामले को गंभीर मानकर जांच की बात कही है। 



थानाधिकारी पर भी उठाए सवाल 

पीडि़त ने जावरमाइंस थानाधिकारी दलपत सिंह, हेड कांस्टेबल सूर्यसिंह, जवान हीरालाल एवं पालोदड़ा चौकी जवान मुकेश कुमार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। आरोप लगाया कि वह दुकान पर सिपाहियों को फ्री में आमलेट नहीं खिलाता था। इससे थाने का स्टाफ नाराज था। प्रथम दृष्टया पुलिस मामले को झूठी शिकायत मान रही है। 


पुलिस की लापरवाही से अपचारी को 4 माह 22 दिन बिताने पड़े जेल में



क्या हालात पर बदल दिए कायदे

ऑडियो में पूर्व जिला परिषद सदस्य ने कहा कि शराब की 35 बोतल रखने पर भी अपराध नहीं बनता। फिर पुलिस ने 20 बोतल पर गिरफ्तार करने की कार्रवाई क्यों की? इस पर एफआईआर में जब्तगी दिखाने वाला हेड कांस्टेबल सूर्य सिंह खुद कबूल कर रहा है कि वह कार्रवाई में शामिल ही नहीं था। थानाधिकारी ने उसका नाम लिख दिया। उसने कहा कि बिना काम के इस मामले में उसे घसीटा जा रहा है। 



करेंगे जांच 

मामले की शिकायत मिली है। जांच कर हकीकत पता करेंगे। झूठा मामला पाया गया तो निश्चित तौर कार्रवाई की जाएगी।

आरपी गोयल, पुलिस अधीक्षक



अब भी बेच रहा होगा

भोजनालय की आड़ में आरोपित शराब बेचता है। थाने से 16 किलोमीटर दूर केवल आमलेट खाने के लिए स्टाफ थोड़े न जाएगा। सारे आरोप निराधार हैं।  

दलपतसिंह, थानाधिकारी

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned