चुनाव में लगेंगे साढे तीन हजार पुलिसकर्मी

सोशल डिस्टेंसिंग पर रहेगा ध्यान, सुरक्षा चाक चौबंद

By: Pankaj

Published: 22 Nov 2020, 11:46 PM IST

उदयपुर . जिले की अलग-अलग 5 पंचायत समितियों में सोमवार को शुरू होने वाली मतदान प्रक्रिया को लेकर जहां प्रशासन की ओर से व्यवस्थाएं की गई है, वहीं पुलिस की ओर से सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं। जिला मुख्यालय से लेकर प्रत्येक मतदान केंद्र तक जाप्ता तैनात किया गया है। शांतिपूर्ण मतदान के लिए पुलिस की ओर से सुरक्षा मुहैया कराने के साथ ही कोरोना गाइडलाइन की पालना कराने पर जोर रहेगा। जिलेभर में करीब साढ़े तीन हजार पुलिसकर्मियों को चुनावी व्यवस्थाओं में तैनात किया गया है।

एएसपी (हेडक्वार्टर) अनन्त कुमार ने बताया कि जिले की 201 ग्राम पंचायतों में 681 पोलिंग बूथ हैं। प्रत्येक बूथ पर कांस्टेबल तैनात किए गए है। प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर एक हैड कांस्टेबल और तीन कांस्टेबल नियुक्त किए गए हैं, वहीं संवेदनशील जगहों पर अलग से एक हैड कांस्टेबल और दो कांस्टेबल तैनात किए है। इसके अलावा प्रत्येक ग्राम पंचायत में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना को लेकर तीन-तीन होमगार्ड रहेंगे। इसके अलवा प्रत्येक दो-तीन ग्राम पंचायतों पर एक मोबाइल पार्टी गठित की गई है, दसमें एक एएसआई और चार कांस्टेबल ड्यूटी पर रहेंगे। प्रत्येक पंचायत मुख्यालय पर 30 कांस्टेबल की टीम अलग रहेगी।

रिजर्व टीमें भी
आईजी और डीजीपी की दो आरएएस बटालियन कंपनियां रिजर्व रहेगी। इसके अलावा जिला स्तर पर 5 टीमों में 40 पुलिसकर्मियों की फोर्स रिजर्व रहेगी। पंचायत समिति में 5 सुपरवाइजरी टीमें रहेगी, इनमें एक अधिकारी के साथ चार कांस्टेबल तैनात रहेंगे।
नियमों की पालना में निगरानी

सुपरवाइजर टीमें बीते दो दिन से चुनाव स्थलों पर निगरानी कर रही है, जो आचार संहिता की पालना और शांति व्यवस्था को लेकर तैनात है। बाकी पुलिस बल रविवार को चुनाव पार्टियों के साथ रवाना हुआ, जो मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद लौटेगा। मतदान के बाद ईवीएम सुरक्षा को लेकर आट्र्स कॉलेज और एमजी कॉलेज में बनाए गए स्ट्रॉन्ग रूम और परिसर की सुरक्षा को लेकर भी पर्याप्त सुरक्षा बल मुहैया कराया गया है।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned